आमरण अनशन ने लिया बड़े जन-आंदोलन का रूप


फरीदाबाद: फरीदाबाद नगर निगम में व्याप्त भ्रष्टाचार के विरूद्ध निगम अधिकारी रतन लाल रोहिल्ला के द्वारा 54 दिन पहले सत्याग्रह से शुरू किया आंदोलन और अनशनकारी बाबा रामकेवल जी के 15 दिन से चल रहे आमरण अनशन ने अब एक बड़े जन-आंदोलन का रूप धारण कर लिया है। अनशनकारी बाबा जी की तबियत बिगडऩे की खबर लगते ही भीड़ निगम मुख्यालय पर पहुंच गई। क्या राजनैतिक पार्टियां, क्या सामाजिक, धार्मिक, मजदूर, छात्र, किसान, व्यापारी, कर्मचारी व युवा संगठन और आम नागरिक सब आक्रोशस्वरूप भ्रष्टाचार विरोधी मंच के आह्वान पर आज निगम मुख्यालय पर इक्टठे हुए और फिर सैंकड़ों की संख्या में आक्रोशित शहरवासियों का जनसमूह हाथों में तिरंगे लेकर भ्रष्टाचार व हरियाणा सरकार विरोधी नारे लगाते हुए शहर की सड़कों पर उतर पड़े। ये प्रदर्शनकारी जुलूस के आगे-आगे हरियाणा सरकार की अर्थी लेकर चल रहे थे। अनशनकारी बाबा रामकेवल जी ने जुलूस को इंकलाब जिदाबाद के बुलंद नारे के साथ निगम मुख्यालय से रवाना किया।

मंच के कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर किसी प्रकार जाम आदि नहीं लगने दिया और यह सुनिश्चित किया कि जुलूस के कारण आम जनता को किसी प्रकार की परेशानी न हो। इसके साथ-साथ बाबा जी के अनशन के समर्थन में आपकी अपनी अधिकारी पाटी्र की ओर से इनके दो नेता शिवम व विजय 24 घंटे की भूख हड़ताल पर बैठे। आज के इस कार्यक्रम में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा की ओर से जिला प्रधान अशोक कुमार व युद्धवीर खत्री, समाज सेवी आकाश हंस, अभिषेक श्री वास्तव, आर.के. भारद्वाज, जसवंत पंवार, अनुज भाटी, अजय डागर, देवेन्द्र पंवार, हरेन्द्र नागर, शहीद भगत सिंह सेवा सदन की ओर से सलीम अहमद, किसान नेता किशन चंद चहल, पर्वतीय कालोनी व्यापारी मंडल के नेता राममेहर, ब्राहम्ण समाज सभाी की ओर अवधेश कुमार ओझा, आर.डब्लयू.ए. सेक्टर 55 की ओर से नरेन्द्र, भीखू नंगला गांव के सरपंच राजेन्द्र तेवतिया, मिर्जापुर के पूर्व सरपंच धीरज यादव, मिशिन जाग्रति मिशिन के प्रवेश मलिक, रोड सेफटी आरगेनाईजेशन के पदाधिकारी, अभिभावक एकता मंच के जिला प्रधान एस.के. जोशी, कर्मचारी नेता शाहबीर खान, धीर सिंह, राममेहर सिंह आदि ने आंदोलन का समर्थन दिया।

– राकेश देव