ग्रामीण क्षेत्र के विकास में कोई कमी नहीं रहेगी


करनाल: जिला परिषद की अध्यक्षा ऊषा देवी मेहला ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मार्गदर्शन में करनाल के ग्रामीण क्षेत्र के विकास में किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। सबका साथ-सबका विकास नारे को परिभाषित करते हुए जिला परिषद के सभी सदस्यों के सहयोग से ग्रामीण क्षेत्र का विकास सुनिश्चित किया जा रहा है। वे मंगलवार को स्थानीय विकास सदन में जिला परिषद की बैठक को संबोधित कर रही थी। करनाल, आशुतोष गौतम, महिन्द्र (पंजाब केसरी): जिला परिषद की अध्यक्षा ऊषा देवी मेहला ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मार्गदर्शन में करनाल के ग्रामीण क्षेत्र के विकास में किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। सबका साथ-सबका विकास नारे को परिभाषित करते हुए जिला परिषद के सभी सदस्यों के सहयोग से ग्रामीण क्षेत्र का विकास सुनिश्चित किया जा रहा है।

वे मंगलवार को स्थानीय विकास सदन में जिला परिषद की बैठक को संबोधित कर रही थी। इससे पहले जिला परिषद की बैठक की कार्यवाही के दौरान सभी सदस्यों द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में विकास के पहिये को गति प्रदान करने तथा आमजन को बेहतर बिजली व्यवस्था,सड़क,स्वच्छ पेयजल,आगंनवाड़ी केन्द्रों में सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाने तथा पानी की निकासी के व्यापक प्रबंध करने के दृष्टिगत विस्तार से चर्चा की गई। बैठक के ऐजेंडे के अनुसार जिला परिषद की रेलवे रोड़ और जीटी रोड़ की दुकानों का किराया निर्धारित करने का फैसला अगली बैठक तक लम्बित रखा गया तथा करनाल स्मार्ट सिटी की योजना को आगे बढ़ाने के लिए विकास भवन के प्रथम तल को जिलाधीश करनाल द्वारा अधिगृहित करने को सभी सदस्यों द्वारा मंजूरी दी गई।

इसके अतिरिक्त क्रिकेट खिलाडिय़ों के अभ्यास के लिए स्टेडियम के साथ लगती जिला परिषद की जमीन को लीज पर देने का केस हरियाणा सरकार को स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा। साथ ही जिला परिषद के प्रधान तथा जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के कार्यालय के लिए फर्नीचर खरीदने के प्रस्ताव को सभी सदस्यों द्वारा बैठक में पास किया गया। इस मौके पर जिला परिषद की उपाध्यक्षा बाला देवी,अशोक मित्तल,चंचल राणा,बलवान सिंह,दीपक त्यागी,दीक्षा रानी सहित अन्य सदस्य तथा जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुमन धनखड़,डीडीपीओ कुलभूषण बंसल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

– आशुतोष गौतम, महिन्द्र