योग से असाध्य बीमारियों का भी इलाज संभव


फरीदाबाद: अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह 21 जून को भव्य तरीके से मनाया जाएगा। इसको लेकर योग प्रशिक्षण शिविरों का आयोजन 9 जून से शुरू किया गया है। उपमण्डल स्तर पर ये शिविर 11 जून तक चलेंगे। फरीदाबाद और बल्लभगढ में उपमण्डल स्तर के प्रशिक्षण शिविर आयोजित किये जा रहे है। इसी क्रम में शनिवार को फरीदाबाद के राज्य खेल परिसर में योग प्रशिक्षण शिविर लगाया गया। जिसका शुभारंभ नगराधीश सतबीर सिंह मान ने दीप प्रज्जवलन से किया। इस मौके पर नगराधीश ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने यूएनओ में योग के महत्व को लेकर दुनिया के देशों को बताया कि योग से असाध्य बिमारियों का भी ईलाज संभव है।

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए योग का अपना महत्व है। दुनिया के देशों में योग की महता को स्वीकार करते हुए 21 जून को योग दिवस मनाने का निर्णय लिया है। अब की बार यह तीसरा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस होगा। उन्होने कहा कि योग से असाध्य रोगों का उपचार भी संभव हुआ है। हमें योग को रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बनाना होगा। नगराधीश ने कहा कि प्रातकाल की वेला में योग करने से हमारे शरीर को नई ऊर्जा मिलती है। उन्होंने कहा कि 13ए 14 व 15 जून को योग प्रशिक्षण शिविर लगाए जाएगें।

जिला मुखालय पर 21 जून को मनाए जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की फाईनल रिहर्सल फरीदाबाद के राज्य खेल परिसर में 19 जून को करवाई जाएगी। उन्होनें बताया कि 20 जून को मैराथन दौड का भी आयोजन किया जाएगा। इसमें हजारों स्कूली बच्चेंए पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि व आम नागरिक भाग लेगें। शनिवार को योग प्रशिक्षण कार्यक्रम में योगाचार्य ने करीब डेढ घंटे तक योग का पाठ पढाया। इसमें महिला योग प्रशिक्षक वंदना व राजबाला ने भी मंच से योग की क्रियाओं के बारे में व्यवहारिक जानकारी दी।

(राकेश देव)