दमकल केंद्र के रास्ते में खड़े रहते हैं वाहन


मानेसर: आइएमटी मानेसर में अस्थाई तौर पर बनाए गए दमकल केंद्र के रास्ते में पार्किंग होने से किसी भी समय बड़ा हादसा हो सकता है। हरियाणा स्टेट इंडस्ट्रीयल एवं इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कारपोरेशन (एचएसआइआइडीसी) कार्यालय में बनाए गए अस्थाई दमकल केंद्र के वाहनों को रास्तों में पार्किंग से काफी समय तक यहां जाम में फंसना पड़ता है। एचएसआइआइडीसी कार्यालय, मानेसर तहसील और दमकल केंद्र के लिए एक ही मुख्य द्वार बनाया गया है। इस द्वार में तहसील और एचएसआइआइडीसी में आने वाले लोग अपने वाहनों को खड़ा कर देते हैँ। ऐसे समय में दमकल केंद्र के पास फोन आने पर दमकल केंद्र के वाहनों को एकदम से वहां पहुंचने की तैयारी की जाती है। रास्ते में वाहन खड़े रहने से दमकल केंद्र के वाहन यहां से नहीं निकल पाते और आग फैल जाती है।

दमकल वाहन यहां फंसने पर कर्मचारी सामने खड़े वाहनों के चालकों को तलाशते है और इसके बाद ही यहां से दमकल वाहन भेजा जा सकता है। कई बार तो एचएसआइआइडीसी के सफाई के ठेकेदारों के ट्रैक्टर भी यहीं खड़े कर दिए जाते हैं। मुख्य द्वार पर कई बड़े पेड़ हैं। तहसील में आने वाले लोग पेड़ों की छाया में अपनी गाडिय़ों को खड़ा कर देते हैं। छाया के चक्कर में वाहन खड़े करने से दमकल कर्मियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। मानेसर में दमकल केंद्र के प्रभारी रामकेश ने बताया कि रास्ते में वाहन खड़े रहने से कई बार तो काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। काफी समय तक यहां हॉर्न और सायरन बजाने पड़ता है। इसके लिए एक अलग रास्ता बनाया जाना चाहिए या रास्ते में पार्किंग करने से लोगों को रोकना चाहिए।

– संदीप यादव