लोन फर्जीवाड़े के विरुद्ध महिलाओं का रोष प्रदर्शन


फतेहाबाद: गांव अयालकी में सोलर अनर्जी प्रोडक्ट बनाने वाली तत्व अर्नजी नाम की फैक्ट्री लगाकर ग्रामीण महिलाओं के नाम पर लाखों रुपये का फर्जीवाड़ा करने वाले जयंत कुमार के विरुद्ध पुलिस कार्रवाई को लेकर आज गांव अयालकी व दर्जन भर गांवों की सैकड़ों महिलाओं ने मंगलवार को पहले लघुसचिवालय आकर पुलिस अधीक्षक कुलदीप सिंह को एक ज्ञापन सौंप कर फर्जीवाड़ा करने वाले जयंत कुमार को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की।

महिलाओं ने बाद में अग्रवाल कॉलोनी में सहकारी बैंक अयालकी में मैनेजर रहे हरीश भादू के घर के बाहर जाकर धरना दे दिया व हाथ में ली हुई स्प्रे की बोतलों को लहराते हुए कहा कि अगर पुलिस ने हरीश भादू, सचिव जयपाल सिंह व कम्पनी मालिक जयंत कुमार के विरूद्ध कार्रवाई नहीं की तो वे स्प्र्रे पीकर अपनी जान दे देगी। हरीश भादू के घर के बाहर धरने पर बैठी महिलाओं ने बताया कि गांव अयालकी के पास जयंत कुमार नाम के व्यक्ति से सोलर उपकरण बनाने की फैक्ट्री लगाई थी। उसने आसपास के गांवों की 102 महिलाओं को अपनी फैक्ट्री में काम पर रखा और उन्हें 5500 रूपये महीना वेतन देता रहा।

बाद में एक साल बाद उसने महिलाओं को वेतन देना बंद कर दिया और महिलाओं ने उनके कागजात मंगवा कर महिलाओं के नाम से लाखों रूपये का लोन सहकारी बैंक अयालकी व पंजाब नेशनल बैंक से ले लिया। जयंत कुमार ने महिलाओं से उनके खाते के चैकों पर हस्ताक्षर करवा बैंक से ली गई लोन की रकम को भी अपने खाते में डलवा लिया और इसके बाद गांव अयालकी से फरार हो गया।

जयंत कुमार के भाग जाने के काफी समय बाद महिलाओं को सहकारी बैंक अयालकी व पंजाब नेशनल बैंक की ओर से लिये गए लोन की रिकवरी के नोटिस आने लगे तो महिलाओं का माथा ठनका और उन्हें अपने साथ हो चुकी ठगी का पता चला। मंगलवार दोपहर बाद तक महिलाएं सहकारी बैंक अयालकी के तत्कालीन प्रबंधक हरीश भादू के घर के बाहर धरना मारकर बैठी थी व शहर पुलिस भी मौके पर पहुंची व महिलाओं को समझाने की कोशिश कर रही थी।