हिमाचल में बगावत के सुर तेज, सीएम वीरभद्र ने कांग्रेस हाईकमान पर बोला हमला


शिमला : लगता है इन दिनों कांग्रेस के दिन अच्छे नहीं चल रहे हैं अब बिहार घमासान के साथ ही अब हिमाचल में भी बगावती सुर तेज होने हो गए है। हिमाचल प्रदेश में सत्‍ता पर काबिज कांग्रेस के अंदर चल रही उठापठक अब खुलकर सामने आ गई है। सरकार और संगठन की लड़ाई सार्वजनिक हो चुकी है।

यही कारण है कि हिमाचल प्रदेश के सीएम वीरभद्र सिंह अब खुलकर कांग्रेस हाईकमान पर हमला बोलने में भी नहीं हिचक रहे हैं। उन्‍होंने कुल्‍लू जिले की एक रैली में पार्टी हाईकमान पर तीखा हमला बोला। वीरभद्र सिंह ने कहा कि पार्टी अपनी पूर्व की नीतियों से ‘अलग दिशा की ओर बढ़ रही है।’ मनमाफिक तरीके से चयन करने का तरीका कांग्रेस की अच्छी संस्कृति का खात्मा कर देगा। दरअसल वीरभद्र की ये नाराजगी प्रदेश अध्‍यक्ष पद पर बैठे सुखविंदर सिंह को लेकर है।

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने कहा कि पार्टी नेतृत्व के सोचने और कामकाज के तरीके में बदलाव लाने की जरूरत है, क्योंकि कांग्रेस कोई ‘कारोबारियों की पार्टी’ नहीं है। यह उन लोगों से संबंधित है, जिन्होंने देश की आजादी के लिये अपना जीवन कुर्बान किया। वीरभद्र सिंह कुल्लू जिला के निरमंड में एक जनसभा को संबोधित करते हुए बोल रहे थे।

कांग्रेस को ये बगावती तेवर इसलिए भी महंगे पड़ सकते हैं, क्‍योंकि राज्‍य में इसी साल विधानसभा चुनाव हैं। हिमाचल प्रदेश में सबसे लंबे समय तक चार बार मुख्यमंत्री पद पर रहे सिंह इसलिए नाराज हैं क्योंकि वह राज्य कांग्रेस प्रमुख सुखविंदर सिंह सुखू को हटाना चाहते हैं, जिनके साथ उनका विरोध जगजाहिर है। इसे लेकर उनका पार्टी की वर‍िष्‍ठ नेता अंब‍िका सोनी से विवाद भी हो चुका है।