जमानत लेकर लगवाया कलंक: शिवराज


शिमला: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने पूरे देश में हिमाचल का नाम बदनाम करके रख दिया है। वह ऐसे शायद पहले मुख्यमंत्री हैं, जिन्हें सत्ता में रहते हुए सीबीआई से जमानत लेनी पड़ी हो। यह टिप्पणी आज भाजपा द्वारा शिमला संसदीय क्षेत्र के लिए आयोजित परिवर्तन रथ यात्रा के सतीवाला में समापन अवसर पर बतौर मुख्यातिथि शिरकत करते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने की। उन्होंने सरकार को घेरते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा जो पैसा हिमाचल के विकास को दिया जा रहा है, वह भी भेदभाव करते हुए हिमाचल सरकार खर्च नहीं कर पा रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा हिमाचल के लिए भारी बजट उपलब्ध करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा विदेशों में देश का डंका बजाया जा रहा है।

पहले केंद्र में कांग्रेस के शासनकाल में विदेशों में भारत अपनी पहचान खोता जा रहा था आज विदेशी भारत के प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए दौड़े आ रहे हैं। उन्होंने हिमाचली रूमाल व टोपी का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जहां स्वयं हिमाचली टोपी पहनना पसंद करते हैं तो वहीं विदेशों में हिमाचली टोपी को भेंट भी कर रहे। उन्होंने इस दौरान मध्यप्रदेश में सरकार द्वारा शुरू की गई विभिन्न योजनाओं का भी जिक्र किया। इसके अलावा उन्होंने हिमाचल प्रदेश को बधाई देते हुए कहा कि यहां बेटा व बेटी में भेदभाव नहीं किया जाता।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सतीवाला में भाजपा की परिवर्तन यात्रा के समापन समारोह के अवसर पर विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए विधायकों व सांसदा का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश से आया हूं, लेकिन खाली हाथ नहीं आया हूं, बल्कि मध्य प्रदेश की 7 करोड़ की जनता की शुभकामनाएं लाया हूं, ताकि यहां भी भाजपा की सरकार सत्ता में आए। उन्होंने कहा कि हिमाचल की जनता मेहनत और पसीने से कमाती है मगर यहां की सरकार जनता को लूटकर अपना खजाना भर रही है। यहां के मुख्यमंत्री की सीबीआई द्वारा जांच किए जाने से प्रदेश की नाक सीएम ने कटवा दी है।

(विक्रांत सूद)