कश्मीर में आतंकवादी संगठन हिजबुल के भर्ती मॉड्यूल का भंडाफोड़, तीन अरेस्ट


जम्मू & कश्मीर के बारामूला जिले में J & K पुलिस ने सेना की मदद से आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के भर्ती मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है । जो कि युवाओं को आतंकी गतिविधियों में लुभाने के लिए क्षेत्र में सक्रिय रहा है ।

आपको बता दे कि एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस माड्यूल का नेतृत्व जम्मू & कश्मीर के कुपवाड़ा जिले का हंदवाड़ा नागरिक हिजबुल मुजाहिद्दीन कमांडर परवेज वानी कर रहा था। पुलिस अधिकारी ने ये बताया कि छापेमारी के दौरान 3 लोग अरेस्ट किए गए हैं। इस माड्यूल की योजना कुछ युवाओं को पाकिस्तान भेजने और वहां के आतंकवादी शिविरों में प्रशिक्षण दिलाने की थी।

इस मॉड्यूल के तहत PoK में आतंकवादी शिविरों में प्रशिक्षण के लिए वैध वीजा पर युवाओं को पाक पहुंचाने की योजना थी । पुलिस का कहना है कि हिरासत में लिए गए लोगों में से एक अब्दुल रशीद बट मई में पाकिस्तान गया था और उसने PoK में आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के खालिद बिन वालीज शिविर में आतंकवादी गतिविधियों की ट्रेनिंग ली थी ।

आपको बता दे कि उसे एक अलगाववादी संगठन की सिफारिश पर राजधानी दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग से वीजा मिला था। इनके पास से शस्त्र, गोला-बारूद और 1 लाख रुपये बरामद किया गया है ।

पुलिस अधिकारी सूत्रों से ये भी बताया गया कि यह मॉड्यूल आतंकवादी समूहों को रसद सहायता भी प्रदान करता था। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

इस माड्यूल का मकसद सिर्फ युवाओं को आतंकवाद की तरफ लालच देना ही नहीं है बल्कि साथ ही हिज्बुल मुजाहिद्दीन संगठन के अन्य आतंकियों को सभी प्रकार की सहायता प्रदान करना है।

आपको ये भी बता दे कि हाल ही में अभी तक जम्मू & कश्मीर के बारामूला जिले की J & K पुलिस ने आतंकवादियों के चंगुल से आतंकवादी रैंकों में शामिल होने वाले 10 युवाओं को बचाया है और उन्हें उनके माता-पिता को सौंप दिया गया है ।