AMU के छात्र के आतंकी बनने की रिपोर्ट J&K पुलिस ने किया खारिज


Terrorist

आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल होने को लेकर आज जम्मू & कश्मीर पुलिस ने बारामूला निवासी अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के एक और छात्र के आतंकवादी बनने की रिपोर्ट को पूरी तरह खारिज करते हुए कहा है कि वह युवक महाराष्ट्र में कार्यरत है।

पुलिस के एक प्रवक्ता ने ट्वीट किया की मीडिया के एक वर्ग में आ रही बारामूला निवासी मुजमिल हुसैन के एएमयू से लापता होने की रिपोर्ट गलत है और उन रिपोर्ट्स को खारिज किया जाता है। यह युवक महाराष्ट्र के नागपुर में अक्टूबर 2016 से खनिज उत्खनन निगम लिमिटेड (एमईसीएल) में कार्यरत है।

कुपवाड़ा निवासी एएमयू के शोधार्थी मन्नन बशीर वानी के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल होने के कुछ ही दिन बाद मुजमिल के भी आतंकवादी संगठन के साथ हाथ मिलाने की रिपोर्ट आयी थीं। मन्नन के माता-पिता, बहन और परिजनों ने उससे घर लौटने की अपील की है।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।