कश्मीर में आज रात से सोशल मीडिया साइटों को बंद रखने का निर्देश जारी


श्रीनगर : हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के इस हफ्ते के आखिर में एक साल पूरे होने के मद्देनजर जम्मू कश्मीर पुलिस ने इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को सभी सोशल मीडिया साइटों को आज रात 10 बजे से अगले आदेश तक ब्लॉक रखने या उनकी सेवाएं बंद रखने का निर्देश दिया है। कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक मुनीर अहमद खान ने घाटी में विभिन्न इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को यह आदेश जारी किया। आदेश में कहा गया है, राष्ट्र विरोधी तत्वों द्वारा इंटरनेट सेवाओं के दुरूपयोग की आशंका के मद्देनजर आपको सभी सोशल मीडिया साइट ब्लॉक करने का आदेश दिया जाता है। इन तत्वों द्वारा कानून व्यवस्था की स्थिति खराब किए जाने की आशंका है। इसमें कहा गया है कि यदि सोशल मीडिया साइटों को ब्लॉक करना संभव नहीं है तो इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को अगले आदेश तक रात 10 बजे तक कश्मीर घाटी में अपनी सेवाएं बंद कर देनी चाहिए।

अधिकारियों के एहतियाती कदम के तहत समूची घाटी में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद रखने की भी संभावना है। गौरतलब है कि पिछले साल आठ जुलाई को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में बुरहान के मारे जाने के बाद व्यापक विरोध प्रदर्शन हुआ था और लंबे समय तक घाटी में कर्फ्यू और बंद रहा था। चार महीने तक सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों के बीच रोजाना होने वाली हिंसा में करीब 85 लोग मारे गए थे और हजारों अन्य घायल हो गए थे। घाटी में, खासतौर पर दक्षिण कश्मीर में सुरक्षा सख्त कर दी गई है। पुलिस और अन्य सुरक्षा बलों ने त्राल इलाके में वानी के पैतृक गांव में लोगों को एकत्र होने से रोकने के लिए चौकसी बढ़ा दी है। वहीं, अलगाववादी संगठनों ने पथराव करने वालों के खिलाफ सुरक्षा बलों की कार्वाई में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए आठ जुलाई को बंद का आहवान किया है।