मुगल रोड फिर से खुला, कश्मीर-लद्दाख राजमार्ग शुरू


श्रीनगर : जम्मू कश्मीर का 86 किलोमीटर ऐतिहासिक मुगल रोड को ताजा हिमपात बंद होने और सड़कों की फिसलन की स्थिति में सुधार आने के बाद आज इस मार्ग को एक ओर से यातायात के लिए फिर से खोल दिया गया। इसके अलावा लद्दाख को जोड़ने वाल 300 किलोमीटर श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग को भी वाहनों के लिए खोल दिया गया है।

यातायात पुलिस अधिकारी ने बताया मुगल रोड में वाहन चल रहे है। राजौरी और पुंछ वाया बुफलियाज के साथ दक्षिण कश्मीर में शोपियां को जोड़ने वाले मार्ग को भी खोल दिया गया है। पीर-की-गली में सोमवार को हिमपात और अत्यधिक फिसलन के कारण इसे बंद कर दिया गया था।

उन्होंने कहा दुर्घटना और यातायात जाम से बचने के लिए सड़क पर केवल हल्के वाहनों को चलने की अनुमति दी जायेगी क्योकि कुछ स्थानों पर सड़क बहुत अधिक संकरा है और वाहनों को दोनों तरफ बर्फ की दीवारों के बीच से गुजरना पड़ता है। उन्होंने कहा आज शोपियां से बुफलियाज के बीच वाहन चलेंगे। दूसरी ओर से किसी भी प्रकार के वहानों को आने की उनमति नहीं दी गयी है। कुछ स्थानों पर सड़कों में फिसलन की वजह से वाहनों को नौ बजे से चलने की अनुमति दी गयी है। इस दौरान बीच 434 किलोमीटर लम्बे श्रीनगर-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग में दोनों ओर से हल्के वाहन लगातार चल रहे है जबकि भारी वाहन एहतियात के तौर पर एक ओर से चलेंगे।

कश्मीर के संभागीय उपायुक्त ने कल लेह राजमार्ग खोला, हालांकि जनरल कमांडिंग ऑफिसर (जीओसी) 15 कोर के लेफ्टिनेंट जनरल ए के भट्ट ने छह अप्रैल को सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के बिना इसे खुलने की घोषणा की थी। अधिकारियों ने कहा कि हल्के वाहनों प्रतिदिन दोनों ओर से चलेंगे। हालांकि भारी वाहनों को एक दिन छोड़कर एक तरफ से चलने की अनुमति दी गयी है।

यातायात अधिकारी ने कहा कश्मीर घाटी को देश के शेष हिस्सों से जोड़ने वाल राष्ट्रीय राजमार्ग पर दोनों ओर से हल्के वाहन चलेंगे। हालांकि भारी वाहनों को एक ओर से चलने की अनुमति दी गयी है। जम्मू से श्रीनगर की ओर आज भारी वाहने चलेंगे और विपरीत दिशा से भारी वाहनों की आने की अनुमति नहीं दी गयी है।

 

 

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ