GST के विरोध में कश्मीर घाटी के कई हिस्सों में दुकानें बंद


श्रीनगर : बीती रात पार्लियामेंट हाउस के सेंट्रल हॉल में एक भव्य समारोह में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने GST लॉन्च करने की घोषणा की। संसद के सेंट्रल हॉल में प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति ने GST लागू करने का एलान किया ।

वही GST को लेकर आज जम्मू & कश्मीर के घाटी की ज्यादातर दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान आज बंद रहे। वही ये भी बताया जा रहा है कि अधिकारियों ने बचाव की दृष्टि से श्रीनगर के कई हिस्सों में लोगों के एक जगह इकट्ठा होने पर रोक लगा दी थी।

 Kashmir Traders and Manufacturers Federation (KTMF) ने बंद का आह्वान किया था। वही व्यापारियों और विपक्षी दलों का दावा है कि नयी कर व्यवस्था से जम्मू कश्मीर को संविधानके अनुच्छेद 370 में प्राप्त विशेष दर्जा का क्षरण होगा।

वैसे घाटी में सड़कों पर सार्वजनिक परिवहन सामान्य रुप से चल रहे थे। KTMF ने कश्मीर घाटी में आज के लिए कल बंद का आह्वान किया था। उसने बताया था कि वर्तमान स्वरुप में GST से जम्मू & कश्मीर की वित्तीय स्वायत्तता कमजोर होगी और यह कानून राज्य के लोगों को स्वीकार्य नहीं है।

KTMF के अध्यक्ष मुहम्म्द यासिन खान ने का कहना है कि हम इस नये कानून के विरुद्ध हैं जिसमें वे एक भारत एक कर की बात करते हैं। हम इस नये कानून को लागू नहीं होने देंगे, चाहे हमें अपनी जान कुर्बान क्यों न करने पड़े।

उन्होंने बताया कि हम अपने विशेष दर्जे का क्षरण नहीं होने देगे। कानून व्यवस्था की समस्या पैदा होने की आशंका से अधिकारियों ने बचाव की दृष्टि के तौर पर शहर के कई हिस्सों में रोक लगा दी है।

जम्मू & कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के जिलाधिकारी (उपायुक्त) ने कहा कि श्रीनगर के पुराने भाग में 5 थानाक्षेत्र में धारा 144 के लागू लगाई गई है।