बीजेपी के सीनियर लीडर विनय कटियार ने राम मंदिर के मुद्दे पर कांग्रेस के खिलाफ विवादित बयान दिया है। अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई टालने की अपील करने वाले वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल को निशाना साधाते हुए कटियार ने कहा कि इस मुद्दे पर रोज कोर्ट में सुनवाई हो होनी चाहिए और इसका जल्द-से-जल्द समाधान हो।

कटियार ने कहा टालने का काम कांग्रेस के लोग करते हैं। सिब्बल कांग्रेस से अलग नहीं है। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा जी ने बिल्कुल सही कहा है कि बाहर जो हो रहा है उनको उससे मतलब नही है। कोर्ट तो सुनवाई करना चाहती है,पर बाबरी मस्जिद की ओर से वकील कपिल सिब्बल अडंगा लगा रहे। कटियार ने एक निजी चैनल से बातचीत में कहा, ‘सुनवाई हर रोज होनी चाहिए।

इसे रोका नहीं जाना चाहिए। जो भी फैसला होगा उसे हम मानेंगे। हम इस मसले को टालना नहीं चाहते हैं। विनय कटियार का कहना है कि पुरातत्व विभाग और हाई कोर्ट ने भी स्वीकार किया है कि अयोध्या रामजी का स्थान है। अयोध्या में दावा सिर्फ हिंदुओं का ही है और किसी का नहीं है। वह राम जी की जमीन है। राम जी की पूजा हो रही है और लोग राम जी के दर्शन करने जा रहे हैं। वहां किसी का कुछ नहीं, जो कुछ है वह रामजी का है।

कटियार ने यह तक कह दिया की कांग्रेस के नेता औरंगजेब की औलादें है व औरंगजेब ने काशी विश्वनाथ और मथुरा का मंदिर तोड़ा था। अभी जहां जामा मस्जिद है वहां पहले जमुना देवी का मंदिर था। अगर लोग अयोध्या विवाद सुनवाई में अड़चन डालेंगे तो हम 6,500 मुस्लिम स्थलों पर डेरा डाल देंगे।

 लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।