कपिल का नया आरोप, 10 हजार वाहनों में नकली CNG किट


नई दिल्ली : दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने दिल्ली सरकार में सीएनजी किट घोटाले का आरोप लगाया है। श्री मिश्रा ने संवाददाता सम्मेलन में कथित दस्तावेज दिखाते हुए कहा कि दिल्ली में 10 हजार वाहनों में नकली सीएनजी किट लगाये गये है और इनकी वजह से इन गाड़ियों में कभी भी हादसा हो सकता है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने दावा किया था कि ये किट कनाडा की कंपनी ने निर्मित की है जबकि सच्चाई यह है कि यह चीन में बने है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने के बाद आम आदमी पार्टी (आप) से निष्कासित श्री मिश्रा ने कहा कि सीएनजी किट घोटाले के कारण आप के कई नेताओं ने विदेश यात्रा कर मौज-मस्ती की। श्री मिश्रा इससे पहले भी दवा घोटाला और कई अन्य मामलों में कथित घोटालो से जुडी दस्तावेजों के साथ खुलासा किया। संवाददाता सम्मेलन के पहले श्री मिश्रा राजघाट गये और बुधवार को दिल्ली विधानसभा में अपने साथ हुई हाथापाई का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रोज हो रहे घोटालों के नये खुलासे से भयभीत हैै और गुण्डागर्दी पर उतर आये है।

उन्होंने श्री केजरीवाल पर नक्सलियों से संबंध होने के भी आरोप लगाये और कहा कि अगले 10-15 दिन में मुख्यमंत्री के देशद्रोह को भी साबित करेंगे। श्री मिश्रा ने कहा कि यदि किसी की गाड़ी में ‘टैग’ गैस कंपनी की किट लगी हुई है तो वह खतरनाक साबित हो सकती है। उनका कहना था कि दिल्ली सरकार ने दशमेश कंपनी को सीएनजी किट लगाने की मंजूरी दी थी। ‘टैग गैस’ नाम की कंपनी को उच्च न्यायालय ने बंद किया था और बाद में ‘टैक गैस कनाडा’ नाम की कंपनी खोली गई। सरकार एक परिपत्र जारी करके ‘टैक’ कंपनी को किट लगाने का काम देती है और इस कंपनी को कनाडा का बताया जाता है।