कारगिल विजय दिवस : पीएम सहित पुरे देश ने किया शहीदों को याद


आज ही के दिन 26 जुलाई को कारगिल युद्ध में भारत ने विजय की थी जिसको पुरे 18 साल हो चुके हैं। सन 1999 में जब सेना को पता चला कि उनके खिलाफ ऑपरेशन विजय चलाया गया है। करीब 18000 फीट की ऊंचाई पर कारगिल में लड़ी गई इन 60 दिनों तक चले युद्ध में भारत के करीब 527 वीर तपूतों ने अपने जीवन की बलि दी थी।

वही पूरा देश कारगिल विजय दिवस पर उन्हीं शहीदों को नमन कर रहा है। Social Media पर भी लोग वीर जवानों की शहादत को अपने अपने तरीके से याद कर रहे हैं। और इस गौरवशाली पल के लिए भारतीय सेना के जांबाज जवानों को सलाम कर रहे हैं।

कारगिल विजय दिवस पर PM मोदी ने शहीदों को याद करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि कारगिल युद्ध में शहीद हुए हमारे जवानों को याद कीजिए, जिन्होंने देश के सम्मान की रक्षा के लिए अपने प्रणाओं की आहुति दी। कारगिल विजय दिवस भारतीय सेना की ताकत का प्रतीक है। जो लोगों के सेना के कौशल और देशा के रक्षा के लिए किए गए महान त्याग की याद दिलाता है।

PM मोदी की वेबसाइट के ऑफिशियल ट्विटर से PM की सेना के जवानों के साथ एक पुरानी तस्वीर शेयर की गई है।

रक्षा मंत्री अरूण जेटली और तीनों सेवाओं के प्रमुखों ने करगिल युद्ध में अपने जीवन का बलिदान करने वाले सशस्त्र बलों के जवानों को आज श्रद्धांजलि दी। यहां अमर जवान ज्योति पर करगिल युद्ध के शहीदों को श्रद्धांजलि देते समय जेटली के साथ सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत, नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा और एयरचीफ मार्शल बीरेंद्र सिंह धनोआ मौजूद थे।

इस अवसर पर जेटली ने ट्वीट किया, “करगिल विजय दिवस के अवसर पर हमारे सैनिकों के पराक्रमो को सलाम। “

जम्मू-कश्मीर के करगिल-द्रास सेक्टर में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए युद्ध में मिली जीत की याद में हर साल आज के दिन करगिल विजय दिवस मनाया जाता है।

इस दिन ऑपरेशन विजय के तहत भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तानी घुसपैठियों द्वारा कब्जा की गई चौकियों को सफलतापूर्वक वापस ले लिया था। 60 दिन तक चले इस युद्ध में भारतीय सैन्य बलों के 500 से ज्यादा जवानों ने अपनी जान कुर्बान की थी।

इसी अवसर पर लखनऊ में कारिगल के शूरवीरों के याद में बनाए गई शहीद स्मृति वाटिका में राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल रामनाईक ने श्रद्धांजलि दी और कहा कारगिल के जवानों के घर तक पहुंचने का काम भारत सरकार ने किया । और कहा कि पाकिस्तान के भारत ने 2 दुकड़े कर दिए थे 3 टुकड़े न हो जाएं इसलिए अमेरिका पाकिस्तान गया था । देश स्वधीनता का दिवस अगर आज मना रहा है तो कारगिल विजय दिवस इसी का महत्वपूर्ण पड़ाव है पहले लोग सेना में जाते थे अब लोग मल्टीनेशनल कंपनी में जाने को प्राथिमकता देते हैं योगी ने भी कहा कि हमारा एक धर्म ही होना चाहिए वह राष्ट्र धर्म है ।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने ट्वीट में कहा कि, यह दिन है उन शहीदों को याद कर अपने श्रद्धा-सुमन अर्पण करने का, जो हँसते-हँसते मातृभूमि की रक्षा करते हुए वीरगति को प्राप्त हुए।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लिखा है कि, उन्होंने अपनी ज़िंदगी बिछा दी, इसलिए हम अपना सिर ऊंचा करके रह सकते हैं। कारगिल विजय दिवस पर हम अपने बहादुर के साहत और त्याग को नमन करते हैं।


सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने शहीद जवानों को सैल्यूट करते हुए लिखा है कि यह गौरवमयी दिन कभी भुलाया नहीं जा सकता।


, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,