रांची : झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज कहा कि कांग्रेस की विकास विरोधी और जनता विरोधी नीतियों के कारण लोगों ने कर्नाटक विधानसभा के चुनाव में पूरी तरह से नकार दिया। मुख्यमंत्री ने यहां योजना भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को कर्नाटक में पार्टी की शानदार जीत के लिये बधाई देते हुए कहा कि भाजपा कर्नाटक चुनाव में सबसे बड़ पार्टी बनकर उभरी है।

उन्होंने इस जीत का श्रेय भाजपा की विकासोन्मुख नीतियों को देते हुए कहा कि देश के 125 करोड़ लोगों को प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में अटूट विश्वास है। कर्नाटक देश का 21वां राज्य है जहां भाजपा ने अपनी मजबूती का प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में भाजपा की जीत ने दक्षिण भारत में पार्टी के लिये द्वार खोल दिया है। श्री दास ने कहा कि चार वर्ष पूर्व प्रधानमंत्री श्री मोदी ने जब सत्ता संभाली थी तब भाजपा का आठ राज्यों में शासन था। भाजपा आज कर्नाटक में ऐसी स्थिति में है कि वहां भी अपनी सरकार बना सकती है।

उन्होंने कहा कि पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता का कारण उसके लोकहित में बनायी गयी नीतियां और इनका क्रियान्वयन है। उन्होंने विशवास जताया कि आने वाले समय में भाजपा उड़िसा और पश्चिम बंगाल में अपनी सरकार बनाने में सफलता पायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी पार्टी कांग्रेस मुक्त भारत बनाने के सपना को साकार करेगी। उन्होंने कहा कि कर्नाटक की जनता का दिया गया जनादेश उनके विश्वास को और पुख्ता करता है कि देश की बागडोर एक मजबूत हाथ में है।

देश में धर्म और जाति पर आधारित राजनीति का कोई स्थान नहीं है और जनता सिर्फ विकास के आधार पर ही अपना मत देगी। श्री दास ने झारखंड में कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के नापाक गठबंधन पर हमला बोलते हुए कहा कि जहां एक तरह कांग्रेस डूबता हुआ जहाज है वहीं दूसरी तरफ झामुमो ने आदिवासियों का शोषण किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि झामुमो के कारण आदिवासियों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। और आने वाले समय में झारखंड को झामुमो मुक्त बनाया जायेगामुख्यमंत्री ने उम्मीद जाहिर की कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) 28 मई को होने वाले सिल्ली और गोमिया विधानसभा उप चुनाव में मजबूती से जीत दर्ज करेगी।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।