कश्मीरी अधिकारी की हत्या कायरता और नीचतापूर्ण हरकत : जेटली


नई दिल्ली : रक्षा मंत्री अरूण जेटली ने आज कहा कि शोपियां में आतंवादियों द्वारा कश्मीर के सैन्य अधिकारी का अपहरण और हत्या कायरता और नीचतापूर्ण हरकत है।
आज सुबह शोपियां के हेरमैन इलाके से 23 वर्षीय लेफ्टिनेट उमर फयाज का शव मिला था। उन्हें गोलियां मारी गई थी। इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए जेटली ने उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं जताई और कहा कि वे घाटी के युवाओं के लिए प्रेरक बने रहेंगे।
जेटली ने ट्वीट किया, ”शोपियां में लेफ्टिनेंट उमर फयाज का अपहरण और हत्या कायरतापूर्ण और नीचतापूर्ण हरकत है। जम्मू-कश्मीर का यह युवा अधिकारी रोल मॉडल था।” अधिकारियों ने बताया कि फयाज बातापुरा में अपने एक रिश्तेदार की शादी में शरीक होने गए थे जहां से कल रात लगभग दस बजे आतंकियों ने उनका अपहरण कर लिया था। फयाज पांच महीने पहले ही, दिसंबर 2016 में सेना में शामिल हुए थे।
जेटली ने कहा कि फयाज का बलिदान, घाटी से आतंकवाद को उखाड़ फेंकने की राष्ट्र की प्रतिबद्धता को दोहराता है। उन्होंने कहा, ”2 राजपूताना राइफल्स के लेफ्टिनेंट उमर फयाज एक असाधारण खिलाड़ी थे, उनका बलिदान घाटी से आतंक के खात्मे के राष्ट्र के दृढ़ संकल्प को दोहराता है।”

– भाषा