कोविंद ने भरा राष्ट्रपति पद का नामांकन


नई दिल्ली : राजग की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने संसद भवन में अपना नामांकन भर दिया है। इस दौरान कोविंद के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और वरिष्ठ बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी भी मौजूद रहे।

                                                                                                 Source

कोविंद के नामांकन में कुल 480 प्रस्तावक बने, पीएम मोदी, लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी कोविंद के प्रस्तावक बने। इससे पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और रामनाथ कोविंद एक ही वाहन में बैठकर नामांकन भरने के लिए रवाना हुए थे।

                                                                                               Source

नामांकन भरने के बाद रामनाथ कोविंद ने मीडिया से बातचित के दौरान कहा कि राष्ट्रपति पद लोकतंत्र का सबसे गरिमा वाला पद है।  हमारे देश में संविधान सर्वोपरी है और इसको सर्वोपरी बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति का पद दलगत राजनीति से ऊपर होना चाहिए। कोविंद बोले कि कुछ ही वर्षों में हम आजादी के 75 साल पूरे होंगे इसके लिए हमें अभी से तैयार होना होगा। उन्होंने कहा कि मैं सभी को विश्वास दिलाता हूं कि मैं इस पद की गरिमा बनाए रखने का हर संभव प्रयास करुंगा।

योगी ने साधा कांग्रेस पर निशाना
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी पार्टी का लक्ष्य देश के अंतिम व्यक्ति का विकास है, हमारी पार्टी उसी पर आगे बढ़ रही है। रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाने के लिए अमित शाह और पीएम मोदी का आभार व्यक्त करता हूं। योगी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी को मीरा कुमार को उम्मीदवार बनाना ही था तो वह पिछली बार भी बना सकते थे, लेकिन क्योंकि भाजपा ने कोविंद जी का नाम आगे किया इसलिए लोगों को लड़वाने के लिए कांग्रेस ने मीरा कुमार का चुनाव किया।

                                                                                             Source

कोविंद का मुकाबला 17 विपक्षी दलों की उम्मीदवार मीरा कुमार से होगा। इस दौरान कुछ अन्य दलों के प्रमुख भी उनकी उम्मीदवारी का समर्थन करेंगे। कोविंद के नामांकन के लिए भाजपा दिग्गजों का जमघट होना भी शुरू हो गया है। अभी तक प्रकाश सिंह बादल, रामविलास पासवान, मेनका गांधी, जनरल वी. के. सिंह, मुख्तार अब्बास नकवी, कैलाश विजयवर्गीय, थावरचंद गहलोत, शिवराज सिंह चौहान, संसद भवन पहुंच गए हैं। इसके अलावा गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह भी पहुंच गए हैं।

रामनाथ को राष्ट्रपति पद के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नामांकन भरने के लिए बधाई दी। सूत्रों के मुताबिक नामांकन पत्र के चार सेट तैयार किए गए हैं, जिनपर PM मोदी, अमित शाह, तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के हस्ताक्षर होंगे।

17 जुलाई को होने वाले चुनाव में कोविंद की जीत तय मानी जा रही है, हालांकि मुकाबला होना तय है। विपक्षी पार्टियों ने गुरुवार को लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष मीरा कुमार को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया।