देर से ही सही, लेकिन आखिरकार खुल ही गया चोटी काटने का राज


यह अचानक तरीके से महिलाओं की चोटी काटने की समस्या की घटना दिन पर दिन एक नए तरीके से समाने आ रही है। वहीं अब इस प्रकार की घटनाओं से पर्दा फाश होने लगा है। जो अब दिल्ली में नए मामले देखने को मिल रहे हैं। उससे तो केवल यही प्रतीत होता है कि लोग खुद दूसरे लोगों की सारे आम अपनी और साथ ही दूसरों की भी चोटी काट रहें है। चाहे अब दिल्ली हो या नोएडा या फिर चाहे गाजियबाद सब जगह से अब साफ यही देखने को मिल रहा है कि यह जो भी कारनामा हो रहा है। तो आइए देखते है कौन-कौन सी जगहों पर खुद ही जानबूझकर चोटी काटी।

गाजियाबाद के मुरादनगर के एक गांव में रविवार के दिन एक महिला ने जमीन के लालच में अपनी चोटी काट डाली और खुद उन्हीं के एक रिश्तेदार का कहना है कि चोटी काटने पर सरकार जमीन दे रही है। जब पुलिस वालों ने इस महिला से पूछताछ की तो महिला ने इस बात को सच बताया है।

दयानतपुर में रविवार दोपहर पुष्पा नाम की महिला की चोटी कटने की खबर फैली तो ग्रेटर नोएडा में पोते ने जब दादी की चोटी काटी क्योंकि वह पब्लिसिटी करना चाहता था। सोते समय अचानक पुष्पा की कोई चोटी काट कर ले गया।

जांच के दौरान पुलिस ने महिला पुष्पा ने पुलिस को बता दिया कि उसके जेठ के 11 साल के पोते ने चोटी काटी है।

जब परिवार के सभी लोगों ने युवती को बाल छोटे कराने से मना किया तो उसने यह चोटी वाली घटना का फायदा उठाते हुए खुद ही अपनी चोटी काट डाली। जैसे ही उसने अपनी चोटी काटी तो उसके अगले दिन ही उसने सब सच बता दिया। किशोरी अपने लंम्बे बालों को काटवाना चाहती थी। जबकि उसके घर वाले बाल कटावाने से मना कर रहे थे।