भोपाल बनेगा दुनिया में स्मार्ट सिटी का मापदंड


भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दुनिया में स्मार्ट सिटी का मापदंड भोपाल स्थापित करेगा। उन्होंने कहा कि नागरिकों ने क्लीन सिटी भोपाल बनाने का जो संकल्प लिया था, वह पूरा कर दिखाया है। आज भोपाल देश का दूसरा सबसे स्वच्छ नगर है। यह बात मुख्यमंत्री चौहान ने कल रविवार को स्मार्ट सिटी प्लान की दूसरी वर्षगाँठ पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते  हुए कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्मार्ट सिटी की व्यवस्थाएं मानवीय संवेदनाओं के साथ हों। इन व्यवस्थाओं से पर्यावरण बेहतर हो। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी में स्थानीय प्रजातियों के पेड़ लगाये जायें ताकि पर्यावरण में ऑक्सीजन की उपलब्धता के साथ-साथ भावी-पीढ़ी को स्वच्छ पर्यावरण मिले।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने साइकिल ट्रेक बनाने के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि साइकिलिंग से जहां एक ओर सेहत बनती है, वहीं पर्यावरण प्रदूषण में भी भारी कमी आती है। उन्होंने गाडिय़ों की बढ़ती संख्या को नियंत्रित करने की जरूरत बताते हुए एक से अधिक गाड़ी रखने वालों पर वित्तीय भार बढ़ाने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि भोपाल को क्लीन, ग्रीन, हेल्दी हाईटेक और ग्लोबल सिटी बनाने का जो संकल्प लिया गया था, उस दिशा में भोपाल नगर निगम तेजी से कार्य करके दिखा रहा है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश हर क्षेत्र में प्रगति और विकास कर रहा है। देश की 100 स्मार्ट सिटी में 22 शहर प्रदेश के हैं। उन्होंने स्मार्ट सिटी प्लान के प्रारूप को अदभुत बताते हुए कार्य की तेज गति को बनाये रखने की जरूरत बतायी।

कार्यक्रम के प्रारंभ में स्मार्ट सिटी भोपाल के जीआईएस पोर्टल, स्मार्ट पोल एवं स्मार्ट साइकिलिंग सुविधाओं का मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पण किया गया। इस दौरान श्री चौहान ने कहा कि शीघ्र ही वे भी साइकिलिंग सुविधाओं का उपयोग करेंगे। कार्यक्रम के दौरान नगर निगम आयुक्त श्रीमती छवि भारद्वाज ने स्मार्ट सिटी भोपाल के कुल 342 एकड़ क्षेत्रफल कार्यरूप के आकल्पन की प्रस्तुति दी। इस मौके पर नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह, महापौर आलोक शर्मा, सांसद आलोक संजर, क्षेत्रीय विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह एवं विष्णु खत्री के अलावा निगम के अध्यक्ष सुरजीत सिंह चौहान, नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष हितेश वाजपेई, भोपाल विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष ओम यादव, प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष बृजेश लुणावत समेत जनप्रतिनिधि तथा गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

– मनीष शर्मा