कम वजन के बच्चों का होगा स्वास्थ्य परीक्षण


ग्वालियर: जिला चिकित्सालय मुरार में स्नेह सरोकार कार्यक्रम के अंतर्गत 23 जुलाई को अति कम वजन के बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण एवं अटल बाल पालकों का स्वैच्छिक मनोनयन शिविर आयोजित होगा। इस दिन यह शिविर प्रात: 9 बजे से शुरू होगा। कलेक्टर राहुल जैन ने जिले के नागरिकों से इस शिविर के माध्यम से अटल बाल पालक बनने की अपील की है।

उन्होंने कहा है नागरिकगण अपनी मर्जी से भी कुपोषित बच्चों का चयन कर इस शिविर के जरिए बाल पालक बन सकते हैं। मालूम हो जिले में कुपोषण के दंश से मुरझाए चेहरों पर फिर से मुस्कान लाने के लिये कलेक्टर राहुल जैन की पहल पर समाज के सहयोग से ‘अटल बाल पालक अभियानÓ शुरू हो रहा है।

कलेक्टर के रूप में अपने पूर्ववर्ती जिलों होशंगाबाद व रीवा में श्री जैन द्वारा कुपोषण मिटाने के लिये लागू किए गए इस मॉडल की सफलता की चर्चा प्रदेश ही नहीं देशभर में हो रही है। कलेक्टर श्री जैन ने शिविर को सुव्यवस्थित ढंग से आयोजित करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सिविल सर्जन व जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास को दिए हैं।

उन्होंने कहा कि शिविर के दिन विटामिन-ए, जिंक, ओआरएस एवं टीकाकरण आदि की पुख्ता व्यवस्था करें। साथ ही स्वास्थ्य परीक्षण के लिये डॉक्टर्स की ड्यूटी भी लगाएं। उन्होंने इस सिलसिले में राष्ट्रीय बाल अकादमी के अध्यक्ष जीआर मेडिकल कॉलेज के शिशु एवं बाल रोग विभाग के अध्यक्ष सहित अन्य बाल रोग विशेषज्ञों को भी पत्र
लिखे हैं।

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास बृजेश कुमार त्रिपाठी ने बताया कि जिला चिकित्सालय में आयोजित होने जा रहे शिविर में स्वास्थ्य परीक्षण के लिये बाल विकास परियोजना शहरी क्र-3 व 5 तथा मुरार परियोजना के अति कम वजन के बच्चों को स्वास्थ्य परीक्षण के लिये बुलाया गया है।