नशामुक्ति से ही संभव है समाज का विकास


श्योपुर: जय मीनेष युवा संगठन के तत्वावधान में रविवार को चैनपुरा हनुमान जी मंदिर पर युवा मीणा सम्मेलन आयोजित किया गया जिसमें बतौर मुख्य अतिथि विजयपुर विधायक रामनिवास रावत और विशिष्ट अतिथि के रुप में राजस्थान के छात्र नेता दीपक मीणा उपस्थित रहे जबकि अध्यक्षता तुलसीनारायण मीणा ने की। इस अवसर पर उपस्थित युवाओं को संबोधित करते हुए विधायक श्री रावत ने कहा कि वर्तमान दौर में नशा एक ऐसी चीज है जिससे युवा वर्ग बर्बादी के रास्ते पर अग्रसर है।

यदि युुवा इस नशे को त्याग दें तो इससे न केवल खुद की जिंदगी बच सकती है, बल्कि वे समाज के विकास में भी योगदान दे सकते हैं। इसलिए बेहतर होगा कि युवा नशे को त्यागकर विकास की नई इबारत लिखें। उन्होंने शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि हमें लड़कों को ही नहीं, बल्कि लड़कियों को भी पढ़ाने पर ध्यान देना चाहिए। लड़कियां पढें़गी तो दो घरों को रोशन करेंगी।

उन्होंने दहेज प्रथा पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि जो लड़के दहेज के चक्कर में नई नवेली लड़कियों को छोड़ देते हैं उन लड़कों का समाज को बहिष्कार करते हुए उसे अपनी लड़की नहीं देने का भी संकल्प लेने की जरूरत है। यदि समाज के लोग यह काम करने की ठान लें तो कभी कोई लड़की दहेज प्रताड़ना का शिकार नहीं होगी। छात्र नेता दीपक मीणा ने कहा कि युवाओं में वो ताकत है जो असंभव काम को भी संभव कर सकते हैं। युवाओं को अपनी शक्ति पहचाननी होगी तभी हम आगे बढ़ सकते हैं। सम्मेलन को जय मीनेष युवा संगठन के जिलाध्यक्ष जसवंत सिंह मीणा सरजूपुरा सहित अन्य ने भी संबोधित किया। इस दौरान बड़ी संख्या में समाज के युवा मौजूद थे।