मध्यप्रदेश में तीन स्थानों पर भारी वर्षा के आसार


भोपाल : मध्यप्रदेश के दक्षिणी हिस्से में आने वाले तीन स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने के आसार है और इसके मद्देनजर लगातार मूसलाधार बारिश होने के चलते अलर्ट किया गया है। मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि देश के अनेक स्थानों पर बने कई सिस्टम की वजह से वर्षा की गतिविधियां बढ़ी है और इसके चलते राज्य के कई स्थानों पर कहीं झमाझम बारिश और कहीं मध्यम और तो कहीं बौछारें पड़ सकती है।

                                                                                                   source

प्रदेश के दक्षिण दिशा में आने वाले बैतूल जिले में कल रात से बारिश का सिलसिला जारी है और इसके चलते जहां एक ओर रेलवे का अंडर ब्रिज डूबने से आवागमन बाधित हुआ है वहीं जिले की प्रमुख नदिया एवं नालों के उफान पर बहने से शहर का कई स्थानों से संपर्क पूरी तरह से टूट गया है। बारिश के चलते माचना नदी भी पूरी तरह से उफान पर है। आज सुबह करबला स्थित हाईवे के पुल को छूकर पानी गुजर रहा है। हालांकि नदी पुल के नीचे से बह रही है इसलिए पुल पर से आवागमन जारी रहा।

                                                                                                 source

जिले के अठनेर तहसील क्षेत्र में हुई तेज बारिश और आंधी के चलते यहां के दो दर्जन गांव की फसले तबाह हो गयीं हैं। कल तेज बारिश और आंधी के चलते मक्का, सोयाबीन और कपास की फसल जमीदोज हो गई। राज्य के हरदा जिले में बारिश के चलते अजनाल नदी उफान पर है। नदी के उफान पर होने से कई मार्ग बंद होने से दर्जनों गावों का संपर्क टूट गया है।

                                                                                                  source

अजनाल नदी के उफान पर होने से टिमरनी विकासखंड के फुलड़ी-धनगांव, दूधकच्छ -पानतलाई, कासरनी -झाड़पा, उमरधा -झाड़बीड़ा, मार्ग बंद हो गए हैं। इसके कारण इन गांवों का एक दूसरे से तो संपर्क टूट गया है। देर रात से हो रही लगातार बारिश अभी भी रूक रूक कर जारी है। वहीं रायसेन जिले में अच्छी बारिश हुई यहां पिछले 24 घंटों के दौरान अनेक जगहों पर रूक रूक बारिश होती है। टीकमगढ़ जिले में भी अनेक स्थानों पर दो दिनों से रूक-रूक कर वर्षा हो रही है। प्रदेश के रीवा और सतना जिले में भी रूक रूक कर बारिश होती रही।