शिक्षकों के 9000 पदों की पूर्ति के लिये जल्द भर्ती हो : आर्य


भोपाल : मध्यप्रदेश के आदिम जाति और अनुसूचित जाति कल्याण राज्य मंत्री लाल सिंह आर्य ने कहा कि विभाग की उपलब्धियों का प्रचार-प्रसार व्यापक-स्तर पर किया जाये। विभाग की योजनाओं का लाभ लेने वालों की संख्या में वृद्धि के लिये भी बहुतायत में प्रचार-प्रसार हो। श्री आर्य ने यहां एक समीक्षा बैठक में कहा कि इसके लिये आदिवासी बहुल क्षेत्र में स्कूल, कॉलेज सहित अन्य संस्थाओं में होर्डिंग आदि से जानकारी दी जाये। उन्होंने विभागीय गतिविधियों एवं उपलब्धियों को विभाग की वेबसाइट पर भी प्रसारित करने को कहा।

श्री आर्य कहा कि छात्रावास और आश्रम शालाओं में शिक्षकों के 9000 पदों की पूर्ति के लिये प्रोफेशनल एक्जामिनेशन बोर्ड को रिमाइण्डर भेजकर पदों पर जल्द भर्ती करवायी जाये। उन्होंने कहा कि 2 जुलाई को छात्रावासों में 5-5 पौधे लगाये जायें। इसमें फलदार पौधों का चयन किया जाये जिससे छात्रावासों के बच्चों को पोषण भी मिल सके। उन्होंने कहा कि गुरुकुल, स्कूल, आश्रम-शालाएँ और आवासीय संस्थाओं में एक-एक पौधा जरूर लगायें। उन्होंने निर्देश दिये कि छात्रावासों के किचन गार्डन की मॉनिटरिंग  संभागीय अधिकारी करें।

उन्होंने कहा कि वन्या प्रकाशन द्वारा स्थानीय बोली में होने वाले कार्यक्रमों के प्रसारण की रूपरेखा हर माह तैयार कर केलेण्डर जारी किया जाये। श्री आर्य ने निर्देश दिये कि संभागीय अधिकारी छात्रावासों के निरीक्षण के दौरान वहाँ के रजिस्टर में टिप्पणी जरूर अंकित करें। उन्होंने कहा कि विभाग के कई नियमों में संशोधन हुआ है। उसकी जानकारी के साथ नये जोश एवं ऊर्जा के साथ काम करें। नये सत्र से उचित परिवर्तन दिखने चाहिये। उन्होंने कहा कि छात्रावासों को व्यवस्थित रखने से विद्यार्थियों को अच्छा वातावरण मिल सकेगा।