कर्ज से परेशान युवक ने की आत्महत्या


विदिशा : विदिशा के आरएमपी नगर निवासी 35 वर्षीय मनीष भार्गव ने कल दोपहर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 3 पेज के सुसाइड नोट में मनीष ने लेन-देन का जोखा लिखते हुए आत्महत्या के लिए भाजपा नेता, बैंक अध्यक्ष व अन्य कई लोगों को जिम्मेदार बताते हुए 20 लाख रुपए हड़पने का आरोप लगाया हैै। सुसाइड में लिखा है कि जिन 6 लोगों के कारण वह आत्महत्या कर रहा है। उन लोगों को मत छोडऩा, इन लोगों ने 20 लाख रुपए हड़प लिए और कोर्ट केश करने का आरोप लगाते हुए मकान पर कब्जा करने के लिए दबाव बना रहे थे। बैंक अध्यक्ष श्यामसुंदर शर्मा, मनोज शर्मा पिता अशोक शर्मा, सुरेश दुबे, अंशुज शर्मा, रचना दुबे पत्नी संजीव दुबे ने 20 लाख रुपए हड़प लिए।

उसने सुसाइड नोट में लिखा है कि 2014 में प्रोपर्टी बेचकर मनोज शर्मा व उसके पिता अशोक शर्मा को 26 लाख रुपए दिए थे। उन्होंने पत्नी को लिखा कि इन सभी को सजा दिलवाना, मेरा मोबाइल तुम रख लेना तथा मोबाइल का पासवर्र्ड सुसाइड नोट में लिखा है। जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने सुसाइड नोट को कब्जे में लेकर जांच में लिया है और शव का पोस्टमार्टम उपरांत परिजनों को सौंप दिया। श्यामसुंदर शर्मा ने बताया कि मैं मनीष को नहीं जानता और उन्होंने किसी के पैसे नहीं हड़पे, मामले की ठीक से जांच होनी चाहिए।

राकेश जैन