चीफ जस्टिस को फोन पर मिली धमकी, बम निरोधक दस्ता पंहुचा बॉम्बे उच्च न्यायालय


बॉम्बे उच्च न्यायालय में बम होने की धमकी दी गई है। बता दे कि यह धमकी बॉम्बे उच्च न्यायालय के चीफ जस्टिस को दी गई है। बॉम्बे उच्च न्यायालय की चीफ जस्टिस मंजुला चुल्लर को यह धमकी भरा कॉल आया। फोन करने वाले ने चीफ जस्टिस मंजुला चुल्लर को कॉल कर कहा कि कोर्ट के कमरा नंबर 51 में बम है।

बता दे कि फोन कॉल पर बॉम्बे उच्च न्यायालय के कमरा नंबर 51 में बम होने की धमकी दी गई है। इस कमरे में चीफ जस्टिस के प्रिंसिपल सेक्रेटरी और रजिस्ट्रार बैठते हैं। फोन पर धमकी मिलने के बाद एटीएस कंट्रोल रूम को सूचित गया। जिसके बाद बम निरोधक दस्ता बॉम्बे उच्च न्यायालय पहुंच गया है।

एटीएस ने मौके पर पहुंचकर पूरा रूम खाली कराया। जिसके बाद पूरे रूम की तलाशी ली गई। मगर, बम निरोधक दस्ते को वहां कुछ नहीं मिला। बताया जा रहा है कि किसी ने फर्जी कॉल कर माहौल बिगाड़ने की हरकत की है। जिसका पता लगाया जा रहा है।

आपको बता दें कि गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल में प्रद्युम्न की हत्या केस पर आज बॉम्बे हाई कोर्ट में सुनवाई होनी है. रेयान स्कूल के मालिकों ने हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की है। जिस पर आज दोपहर करीब 3 बजे सुनवाई होनी है। मगर, इससे पहले ही चीफ जस्टिस को धमकी भरे फोन कॉल ने उच्च न्यायालय में हलचल पैदा कर दी है।