गोवा में ‘पद्मावत’ के प्रदर्शन को CM पर्रिकर की हरी झंडी


Manohar Parrikar

पणजी : गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का कहना है कि अगर सेंसर बोर्ड ने ‘पद्मावत‘ को प्रमाणित कर दिया है तो गोवा सरकार को राज्य में फिल्म के प्रदर्शन को लेकर कोई आपत्ति नहीं है। पर्रिकर ने संवाददाताओं से कहा, ‘यदि उनके पास सेंसर प्रमाण-पत्र है, तो हमें कोई आपत्ति नहीं है। यदि कानून-व्यवस्था का कोई मुद्दा है, तो हम इसे देख लेंगे।’

उन्होंने कहा, ‘अबतक, हमें फिल्म रिलीज होने की कोई सूचना नहीं मिली है। यदि इसके पास सेंसर प्रमाणपत्र है तो हम इसे नहीं रोक रहे।’ उन्होंने कहा, ‘यदि वे कुछ संशोधनों के साथ सेंसर प्रमाणपत्र के साथ आते हैं, तो हमें इसमें हस्तक्षेप का कोई बड़ा कारण नहीं दिख रहा है।’ पर्रिकर ने यह भी कहा कि राज्य पुलिस ने गोवा में पर्यटन के पीक मौसम दिसंबर में फिल्म के प्रदर्शन को लेकर चिंता जाहिर की थी, क्योंकि उस दौरान ढेर सारे सुरक्षाकर्मी कानून-व्यवस्था संभालने में व्यस्त रहते हैं।

Manohar Parrikar

उन्होंने कहा कि पर्यटन का पीक मौसम खत्म हो जाने के बाद, इसकी अब कोई चिंता नहीं है। पर्रिकर ने कहा, ‘पुलिस रपट पीक मौसम पर थी। पीक पर्यटन मौसम खत्म हो गया है, इसलिए कोई समस्या नहीं है।’

उल्लेखनीय है कि दिसम्बर में पर्यटकों की अधिक संख्या के कारण कानून-व्यवस्था अक्सर स्थिति अराजक हो जाती है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की महिला शाखा ने गोवा में फिल्म के प्रदर्शन के लिए कानून-व्यवस्था और संजय लीला भंसाली की फिल्म में रानी पद्मावती के गलत चित्रण का हवाला दिया था।

इतने विवाद और विलंब के बाद, केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड ने अंतत: ‘पद्मावत’ को प्रमाणित कर दिया और सिनेमाघरों में इसकी रिलीज का रास्ता साफ कर दिया। फिल्म 25 जनवरी को रिलीज हो रही है, हालांकि निर्माताओं द्वारा आधिकारिक पुष्टि का इंतजार है।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।