किसान कर्ज माफी के मुद्दे पर शिवसेना ने दानवे के बयान की निंदा की


मुंबई: किसान कर्ज माफी के मुद्दे पर महाराष्ट्र भाजपा प्रमुख रावसाहेब दानवे के विपक्ष से गारंटी मांगे जाने की निंदा करते हुए राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा की सहयोगी शिवसेना ने आज कहा कि दानवे का यह बयान दिखाता है कि किसानों के प्रति उनकी कोई सहानुभूति नहीं है। गौरतलब है कि दानवे ने विपक्ष से इस बात की गारंटी मांगी थी कि क्या किसान कर्ज माफी से किसानों की आत्महत्या थम जायेगी।

सोमवार को अहमदनगर में शिरडी स्थित साई बाबा मंदिर का दौरा करने के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए दानवे ने विपक्ष से कहा था कि वे ”लिखित में” बतायें कि किसान कर्ज माफी से महाराष्ट्र में किसानों की आत्महत्या थम जायेगी।
विपक्षी राकांपा और कांग्रेस ने किसान कर्ज माफी की मांग करते हुए पिछले महीने राज्यव्यापी ‘संघर्ष यात्रा’ अभियान शुरू किया था, जिसका शिवसेना ने भी समर्थन किया था।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में इस पर चुटकी लेते हुए लिखा, ”दानवे ने यह टिप्पणी ऐसे समय की जब वे शिरडी यात्रा पर गये थे। यह दिखाता है कि किसानों के प्रति वह कितना सम्मान रखते हैं।” संपादकीय के अनुसार, ”कर्ज माफी कोई स्थायी समाधान नहीं है लेकिन यह फौरी मदद है, जिसे किसानों का जीवन सुनिश्चित करने के लिये दिया जाना चाहिए।” शिवसेना ने कहा कि इस पर गारंटी मांगना किसानों की दुर्दशा का मजाक उड़ाने के समान है।

-भाषा