पर्रिकर के बीफ बयान पर मचा बवाल, VHP ने मांगा इस्तीफा


गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के गोवा विधानसभा में बीफ को लेकर दिए गए बयान पर बवाल मच गया है। वीएचपी ने इस बयान पर मनोहर पर्रिकर का इस्तीफा मांगा है। वीएचपी का कहना है कि ऐसे बयान से भाजपा की छवि खराब हो रही है, उन्हें इस्तीफा देना चाहिए। गौरतलब है कि मंगलवार को मनोहर पर्रिकर ने एक बयान दिया था जिसमे उन्होंने कहा है कि वह “गोवा में बीफ की कमी नहीं होने देंगे।”

Source

दरअसल कल गोवा विधानसभा में सीएम मनोहर पर्रिकर ने कहा था कि राज्य के सरकारी बूचड़खानों में करीब 2,000 किलोग्राम बीफ का प्रतिदिन उत्पादन होता है और इसकी अतिरिक्त मांग को पड़ोसी कर्नाटक से आपूर्ति कर पूरा किया जाता है। राज्य विधानसभा के मानसून सत्र के पहले पर्रिकर ने पड़ोसी राज्य से आपूर्ति होने वाले बीफ की गुणवत्ता को लेकर भाजपा सदस्य की चिंता के जवाब में ये बातें कहीं थी।

भाजपा सदस्य ने कहा था कर्नाटक से खरीदे जाने वाले बीफ की समुचित जांच कराई जाए। मुख्यमंत्री मनोहर ने कहा, ‘‘तकरीबन 2,000 किलोग्राम बीफ का प्रतिदिन राज्य के बूचड़खाने गोवा मीट कॉम्प्लेक्स लिमिटेड में उत्पादन होता है जबकि शेष बीफ कर्नाटक से मंगाई जाती है।’’ बता दें कि उत्तर भारत में भाजपा गौरक्षा का खुले तौर पर समर्थन करती है और बीफ पर पाबंदी चाहती है। बीते कुछ महीनों में गौरक्षा के नाम पर मार-पीट और हत्याएं भी हुई हैं।