बिना ड्राइवर चल पड़ा इंजन, 13 किमी बाइक से पीछा कर के रोका


train

कर्नाटक के कलबुर्गी में रेलवे से जुड़ा एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। कलबुर्गी के वाडी स्टेशन पर ट्रेन का इलेक्ट्रिक रेलवे इंजन ड्राइवर के बिना 13 किमी तक आगे बढ़ गया। इस घटना की जानकारी होने के बाद स्टेशन कर्मचारियों ने बहुत ही फिल्मी स्टाइल में इस इंजिन को रोका।

मराठी अखबार लोकमत के मुताबिक, चेन्नई की ओर से आने वाली मुंबई मेल एक्सप्रेस बोगियों सहित तीन बजे चेन्नई से वाडी स्टेशन पर पहुंची। बता दें कि वाडी स्टेशन पर इलेक्ट्रिक लाइन खत्म होती है और यही से ट्रेनों में डीजल इंजन जोड़े जाते हैं।

वाडी पर मुंबई मेल एक्सप्रेस का इलेक्ट्री इंजन बदल पर डीजल इंजन लगाया जा रहा था। इसी दरमियान इंजन चालू छोड़ लोको पायलट इंजन से बाहर आ गया। ड्राइवर के मुताबिक, इंजन कुछ देर बाद अपने आप आगे बढ़ गया। जिसे देखकर वे हैरान रह गए। इसके बाद वाडी स्टेशन के सभी आला अफसरों को इसकी तत्काल जानकारी दी गई।

तत्परता दिखाते हुए रेलवे अधिकारियों ने बिना ड्राइवर इंजन आगे बढ़ने की खबर बाकी स्टेशनों को भी दी। इसके बाद वाड़ी स्टेशन के अधिकारियो ने आगे वाले स्टेशन को सूचित कर सिग्नल और पटरियों को खाली करने के लिए कहा ताकि ट्रेन को रोका जा सके। इंजिन बहुत ही रफ्तार से पटरी पर दौड़ रहा था। वाडी स्टेशन के मैनेजर जेएन पारिस और लोको पायलट एक बाइक पर बैठे और इंजिन को रोकने के लिए निकल पड़े।