जम्मू & कश्मीर के सुंजवान आर्मी कैंप पर हमले के दौरान आतंकियों से लड़े देश के बहादुर जवानों के एक से एक रोमांचक किस्से सामने आ रहे हैं। एक ऐसे ही बहादुर हैं मेजर अभिजीत। सुंजवान मिलिटरी कैंप पर हमले के दौरान मेजर अभिजीत इतनी बुरी तरह घायल हुए कि उन्हें 3-4 दिन तक बाहरी दुनिया की कोई खबर ही नहीं रही। सर्जरी के बाद होश में आते ही भारत के इस बहादुर लाल का पहला सवाल था, ‘आतंकियों का क्या हुआ?’

आपको बता दे कि मेजर का इलाज मौजूदा समय में उधमपुर के कमांड अस्पताल में चल रहा है। वही , उधमपुर अस्पताल के कमांडेंट मेजर जनरल नदीप नैथानी ने कहा कि मेजर बहुत बहादुर हैं और उनका मनोबल भी काफी ऊंचा है।

उन्होंने जानकारी दी कि होश में आने के फौरन बाद मेजर ने यही पूछा कि आतंकियों का क्या हुआ। मेजर के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है। मेजर ने कहा कि अब वह काफी अच्छा महसूस कर रहे हैं और डाक्टरों से भी बात कर रहे हैं। और दिन में दो बार खुद से चल भी पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि घायल होने के बाद उन्हें बाहरी दुनिया की बिल्कुल भी खबर नहीं रही।

आपको बता दे कि इस आतंकी हमले में 6 जवान शहीद हो गए। हमले को अंजाम देने वाले सभी आतंकियों को भी सेना के जवानों ने ढेर कर दिया। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है कि इस हमले का माकूल जवाब दिया जाएगा।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।