मन की बात में बोले पीएम मोदी- मां हमें जन्म देती है, तो डॉक्टर पुनर्जन्म देता है


Mann-ki-baat_

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के 45वें संस्करण में देशवासियों से एक बार फिर अपने विचार साझा किए। मन की बात में पीएम मोदी ने इस बार टीम इंडिया के खेल की तारीफ करते हुए अफगानिस्तान के बीच हुए ऐतिहासिक टेस्ट मैच को याद किया। राज्यों को जीएसटी का क्रेडिट देते हुए उन्होंने इसे सफल बताया। उन्होंने कहा कि ‘वन नेशन वन टैक्स’ देश के लोगों का सपना था, जो अब हकीकत में बदल चुका है। पीएम ने कहा कि जीएसटी की सफलता के लिए राज्यों ने मिलकर काम किया और इसे सफल बनाया।

उन्होंने जीएसटी ईमानदारी की जीत करार दिया। जलियांवाला बाग हत्याकांड का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘2019 में जलियांवाला बाग की उस भयावह घटना के 100 साल पूरे हो रहे हैं, जिसने पूरी मानवता को शर्मसार किया था। 13 अप्रैल, 1919 का वो काला दिन कौन भूल सकता है, जब शक्ति का दुरुपयोग करते हुए क्रूरता की सारी हदें पार कर निर्दोष और मासूम लोगों पर गोलियां चलाई गयी थी।” बीजेपी संस्थापक सदस्यों में एक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा, “उनमें जो सबसे महत्वपूर्ण बात थी, वो थी भारत की अखंडता और एकता।

हम हमेशा डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के एकता के संदेश को याद रखें, सद्भाव और भाईचारे की भावना के साथ, भारत की प्रगति के लिए जी-जान से जुटे रहें। पीएम मोदी ने पूरी दुनिया में मनाए गए योग दिवस का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘योग दिवस पर अलग ही नजारा था, जब पूरी दुनिया एकजुट नजर आई। विश्वभर में योग दिवस को उत्साह के साथ मनाया गया। सऊदी अरब में पहली बार ऐतिहासिक कार्यक्रम हुआ और मुझे बताया गया है कि बहुत सारे आसन महिलाओं ने किए।

लद्दाख की ऊंची चोटियों पर भारत और चीन के सैनिकों ने एकसाथ मिलकर योगाभ्यास किया। ‘पीएम ने कहा, ‘वायुसेना के हमारे योद्धाओं ने तो बीच आसमान में धरती से 15 हजार फुट की ऊंचाई पर योगासन करके सबको स्तब्ध कर दिया। देखने वाला नजारा यह था कि उन्होंने हवा में तैरते हुए किया, न कि हवाई जहाज में बैठ कर। ‘पीएम मोदी ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भी याद किया। उन्होंने कहा कि कल ही (23 जून) श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि थी। उन्होंने बताया कि डॉ. मुखर्जी के करीबी विषयों में शिक्षा, प्रशासन और संसदीय मामले थे। डॉक्टर्स को लेकर पीएम मोदी कहते है एक जुलाई को ‘डॉक्टर्स डे’ मनाया जाता है। मां हमें जन्म देती है, तो कई बार डॉक्टर हमें पुनर्जन्म देता है। इसलिए हमें डॉक्टर का सम्मान करना चाहिए।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें।