मथुरा ज्वैलर्स हत्याकांड सुलझा, मुठभेड़ के बाद छह बदमाश गिरफ्तार


मथुरा : उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने मथुरा पुलिस के सहयोग से दो आभूषण कारोबारियों की हत्या एवं लूट की घटना का खुलासा करते हुए आज सुबह कोतवाली क्षेत्र में मुठभेड़ के दौरान छह बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।

मुठभेड़ में सात पुलिसकर्मी और एक बदमाश घायल

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार मिश्र ने बताया कि कोतवाली इलाके के चौबियापाडा में मुठभेड़ के दौरान छह बदमाशों रंगा, नीरज, चीनी उर्फ कामेश, आदित्य, आयुष और छोटू को गिरफ्तार किया गया है। मुठभेड़ के दौरान बरसाना के थाना प्रभारी उदय प्रताप सिंह समेत सात पुलिसकर्मी और एक बदमाश नीरज घायल हुआ है। घायलों को अस्पताल भेजा गया है।

उन्होंने बताया कि पकडे गये बदमाशो के पास से अवैध हथियार और लूटे गये कुछ जेवरात बरामद किये गये है। पकडे गये पांच बदमाश चौबियापाडा इलाके के रहने वाले हैं जबकि एक बदमाश थाना हाईवे इलाके का रहने वाला है। पुलिस बदमाशों से लूटे गये जेवरातों के बारे में पता लगा रही है।

गौरतलब है कि गत सोमवार 15 मई की देर शाम मथुरा शहर कोतवाली इलाके में नकाबपोश बदमाशों ने हौली गेट चौकी क्षेत्र में एक ज्वेलर के यहां धावा बोलकर दो सर्राफा कारोबारियों की हत्या कर लाखों की नगदी और जेवरात लूट लिए थे। इस घटना में तीन कारोबारी घायल हुए थे। घटना की गंभीरता को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह और एक मंत्री भी मथुरा भेजा था।

घटना का खुलासा करने के लिए स्थानीय पुलिस की मदद के लिए एसटीएफ को भी लगाया था। खुलासे में देरी होने के कारण कल प्रदेश के सर्राफा कोरोबारियों ने हडताल भी रखी थी। इस मामले में चार पुलिसकर्मियों को ड्यूटी के प्रति लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित भी किया गया था।