भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मेघालय चुनाव के लिए 45 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की है और पिछले एक दशक से यहां की सत्ता में काबिज सत्तारूढ़ कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करने का भरोसा जताया है। 60 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव के लिए यहां 27 फरवरी को मतदान होंगे।

पार्टी ने हालांकि राज्य इकाई के प्रमुख शिबुन लिंगदोह की बहन वॉयलेट लिंगदोह को पूर्व संसदीय सचिव जस्टिन दखार के बदले टिकट देने से इंकार कर दिया। जस्टिन विधानसभा से इस्तीफा देकर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे। जयंतिया हिल्स स्वायत्त जिला परिषद की निवर्तमान सदस्य वॉयलेट लिंगदोह नेशनल पीपुल्स पार्टी में शामिल होने वाली हैं और खलीहरियत विधानसभा सीट से दखार के विरुद्ध चुनाव लड़ेंगी।

यद्यपि भाजपा ने वॉयलेट को टिकट नहीं दिया, लेकिन उनकी दो महिला सहयोगियों पेल्सी स्नैटांग और मारियान मारिंग को टिकट दिया है। दोनों क्रमश: रानीकोर और नोंगपोह विधानसभा सीटों से चुनाव लड़ेंगी। उम्मीदवारों की सूची में कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे अलेक्जेंडर हेक, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष सनबोर और पूर्व संसदीय सचिव रोबिनुसा यंगकोन के नाम भी शामिल हैं। इन लोगों ने अपनी पार्टी छोड़ भाजपा का दामन थामा था और सभी क्रमश: प्याथोरुमखराह, दक्षिण शिलांग और मोकाकिवा विधानसभा सीटों से चुनाव लड़ेंगे।

भाजपा प्रवक्ता नलिन कोहली ने कहा, ‘यह लगभग अंतिम सूची है, क्योंकि हम सभी सीटों से चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। लेकिन कुछ और सीटों के लिए दूसरी सूची निकाली जा सकती है। हम इसे खारिज नहीं कर रहे हैं। इसकी घोषणा या तो रविवार या सोमवार को हो सकती है।’ पार्टी टिकट को लेकर भाजपा में किसी भी प्रकार की दरार से इंकार करते हुए कोहली ने कहा, ‘अधिकतर उम्मीदवार जिन्हें टिकट नहीं मिला है, वे आधिकारिक उम्मीदवार को समर्थन देने को सहमत हुए हैं।’

उन्होंने कहा, ‘हम पार्टी की भलाई के लिए बेहतर उम्मीदवार तलाश रहे थे और हमारे उम्मीदवारों के बारे में निर्णय लेने के समय हम भावनाओं में नहीं बहे, क्योंकि हम यहां टक्कर देने की स्थिति में हैं।’ मौजूदा मेघालय विधानसभा में भाजपा का एक भी प्रतिनिधि मौजूद नहीं है। विधानसभा का कार्यकाल छह मार्च को समाप्त हो रहा है।

भाजपा बुनाई और रेशम विभाग के सेवानिवृत्त निदेशक बकुल हाजोंग को अमपतीगिरी विधानसभा सीट और थॉमस मराक को सोंगसाक विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री मुकुल संगमा के खिलाफ खड़ा कर रही है। वर्ष 1993 से लगातार पांच बार अमपतीगिरी विधासभा सीट से चुनाव जितने वाले संगमा इस बार अमपतीगिरी के साथ सोंगसक विधानसभा क्षेत्र से भी चुनाव लड़ेंगे। कोहली ने कहा, ‘हमारे उम्मीदवार मुकुल संगमा को कड़ी टक्कर देंगे और हम यह सुनिश्चित करेंगे कि हमारे दोनों उम्मीदवार दोनों सीटों पर विजयी हों।’

24X7  नई खबरों से अवगत रहने के लिए यहां क्लिक करें।