केरल यात्रा के दौरान मोदी पर था बड़ा आतंकी खतरा


कोच्चि: कोच्चि मेट्रो रेल परियोजना का उद्घाटन करने के लिए केरल गये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को आतंकी खतरा था। इस आशय की जानकारी प्रदेश के पुलिस महानिदेशक टी.पी. सेनकुमार ने आज दी। सेनकुमार ने आज संवाददाताओं से कहा, प्रधानमंत्री की यात्रा के दिन (शनिवार) यहां बड़े खतरे की आशंका थी। उनकी यात्रा के दिन यहां एक आतंकी मॉड्यूल मौजूद था।

हम इसकी ज्यादा जानकारी सार्वजनिक नहीं कर सकते हैं। ‘आतंकी खतरेÓ के संबंध में सवाल करने पर सेनकुमार ने कहा कि वह ज्यादा जानकारी नहीं दे सकते हैं। केरल के पुलिस प्रमुख ने शुक्रवार को केरल उच्च न्यायालय के पास प्रदर्शनकारियों पर पुलिस बल प्रयोग को जायज ठहराते हुए उक्त बातें कहीं।

पुतुव्यपे के पास एलपीजी टर्मिनल के निर्माण को लेकर प्रदर्शन कर रहे लोगों पर शुक्रवार को पुलिस ने बल प्रयोग किया था। उन्होंने कोच्चि के पुलिस उपायुक्त यतिश चन्द्र का भी बचाव किया, सूचनाओं के मुताबिक उन्होंने ही प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए बल प्रयोग किया था।

पुलिस प्रमुख ने कहा, उन्होंने (प्रदर्शनकारियों) अचानक उस रास्ते पर परेशानी खड़ी करने का प्रयास किया जिससे होकर (17 जून को) प्रधानमंत्री का काफिला गुजरने वाला था। उस दिन अन्य सुरक्षा एजेंसियां रास्ते पर परीक्षण कर रही थीं। मोदी शनिवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कोच्चि आये थे। उन्होंने कोच्चि मेट्रो का उद्घाटन किया और

राज्पाल पी. सदाशिवम, केन्द्रीय मंत्री एम. वेंकैया नायडू और मुख्यमंत्री पिनरई विजयन के साथ मेट्रो रेल की यात्रा भी की थी। पुलिस प्रमुख ने कहा कि प्रदर्शन बिना किसी पूर्व सूचना के आयोजित किया गया था और पुलिस कार्रवार्ई उचित थी। सेनकुमार ने चन्द्र के खिलाफ आरोपों को खारिज किया कि उन्होंने पुतुव्यपे में प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज का आदेश दिया था।  उन्होंने संवाददाताओं से सवाल किया, क्या आप उनकी कार्रवाई का विजुअल दिखा सकते हैं।