कांग्रेस ने रॉबर्ट वाड्रा के सहयोगियों के परिसरों पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की छापेमारी को लेकर शनिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर फिर हमला बोला और आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने राजनीतिक विरोधियों से लड़ने के लिए सीबीआई, ईडी और आयकर विभाग को ‘बंधुआ मजूदर’ बना दिया है। पार्टी ने यह भी दावा किया कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा की हार तय देखकर मोदी सरकार घबराई हुई है और वाड्रा के खिलाफ प्रतिशोध की भावना से काम कर रही है।

गौरतलब है कि वाड्रा कांग्रेस की शीर्ष नेता सोनिया गांधी के दामाद हैं। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, “पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा का पूरी तरह सफाया सुनिश्चित देखकर मोदी सरकार फिर से पुराने हथकंडों की तरफ लौट आई है। पिछले 54 महीनों में मोदी सरकार का भ्रष्टाचार से लड़ाई का नकाब उतर चुका है। अब वह विफलता से लोगों का ध्यान भटकाने के प्रयास में लगी हुई है।”

PM Modi

उन्होंने दावा किया, “मोदी सरकार ने अपने राजनीतिक विरोधियों से लड़ाई के लिए सीबीआई, ई्रडी और आयकर विभाग को बंधुआ मजदूर बना दिया है।” सिंघवी ने कहा, “रॉबर्ट वाड्रा और उनके सहयोगियों के परिसरों पर छापेमारी भी विरोधियों के खिलाफ षड्यंत्रों में नयी कड़ी है। प्रतिशोध की भावना से काम किया गया है।”

गौरतलब है कि प्रवर्तन निदेशालय ने रक्षा सौदों में कुछ संदिग्धों द्वारा कथित तौर पर कमीशन लिए जाने की जांच के संबंध में शुक्रवार को रॉबर्ट वाड्रा की कंपनियों से जुड़े तीन लोगों के ठिकानों पर छानबीन की कार्रवाई की। प्रवर्तन निदेशालय के एक अधिकारी ने कहा कि वाड्रा के सहयोगियों के खिलाफ छानबीन की कार्रवाई रक्षा सौदों में कुछ संदिग्धों द्वारा कथित तौर पर कमीशन लेने के संबंध में गयी है।