नीतीश कुमार की नई कैबिनेट तैयार, मंत्रियों ने ली शपथ


बिहार में मुख्यमंत्री नी‍तीश कुमार के मंत्रिमंडल का शनिवार को विस्तार हो गया। 26 मं‍त्रियों ने शपथ ली जबकि वरिष्ठ BJP नेता मंगल पांडे शपथ ग्रहण करने नहीं पहुंच पाए। उन्हें बाद में शपथ दिलाई जाएगी। राजभवन में बिहार के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी ने मंत्रियों को पद और गोपनियता की शपथ दिलाई।

किशोर यादव (BJP), श्रवण कुमार (JDU), रामनारायण मंडल (BJP), जय कुमार सिंह (JDU), कृष्‍णनंदन वर्मा (JDU), प्रमोद कुमार (BJP), महेश्‍वर हजारी (JDU), शैलेश कुमार (JDU), विनोद नारायण झा (BJP), सुरेश शर्मा (BJP), विजय सिन्हा (BJP), कुमारी मंजू वर्मा (JDU), संतोष निराला (JDU), खुर्शीद उर्फ फ‍िरोज अहमद (JDU), राणा रणधीर सिंह (BJP), विनोद कुमार सिंह (BJP), कृष्‍ण कुमार ऋषि (BJP), मदन साहनी (JDU), कपिल देव कामत (JDU), दिनेश चंद्र वर्मा (JDU), रमेश ऋषिदेव, बृजकिशोर बिंद (BJP), पशुपति पारस (LJP) ने मंत्री पद की शपथ ली।

आपको बता दे कि सबसे पहले विजेंद्र प्रसाद यादव शपथ लेने के लिए मंच पर पहुंचे और मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। वे सुपौल से पांचवी बार विधायक बने हैं। इससे पहले भी उर्जा मंत्री रह चुके हैं। 2005 से लगातार मंत्री हैं।

दूसरे स्थान पर BJP नेता प्रेम कुमार को मंच पर पहुंचे। पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। मंडपम हॉल में तालियों से उनका स्वागत किया गया। इससे पहले वे नेता प्रतिपक्ष रह चुके हैं।

तीसरे नंबर पर राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह ने मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। इससे पहले भी वे जल संसाधन मंत्री रहे चुके हैं। वे JDU के प्रदेश अध्‍यक्ष भी रह चुके हैं। नीतीश कुमार के काफी करीबी माने जाते हैं। जब लालू यादव ने नीतीश कुमार पर मुकदमे का आरोप लगाया तो ललन सिंह ने सामने आकर बताया कि किस तरह लालू यादव किस तरह तथ्‍यों के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

चौथे स्थान पर नंद किशोर यादव मंच पर मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। ये पहले भी पथ निर्माण मंत्री रह चुके हैं। वर्तमान में पटना सिटी BJP विधायक हैं। नेता प्रतिपक्ष भी रह चुके हैं और BJP के प्रदेश अध्‍यक्ष भी रह चुके हैं। भाजपा के थिंक टैंक माने जाते हैं। ये काफी अनुभवी नेता है।

पांचवे स्थान पर श्रवण कुमार मंच पर पहुंचे। मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। नालंदा जिले से JDU के विधायक हैं। पहले भी संसदीय कार्य मंत्री रह चुके हैं। ये पिछली सरकार में भी मंत्री थे। नीतीश कुमार के करीबी इसलिए माने जाते हैं कि दोनों का गृह जिला एक ही है। ये नीतीश कुमार के सलाहकार टीम के सदस्‍य भी माने जाते हैं।

छठे स्थान पर राम नारायण मंडल जो बांका से BJP के विधायक हैं मंच पर पहुंचे। इन्होंने मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ली।

सातवें स्थान पर दिनारा से जदयू जय कुमार सिंह मंच पर शपथ लेने पहुंचे। इन्‍होंने मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। ये पहले भी सरकार में मंत्री रहे चुके हैं। काफी कद्दावर नेता माने जाते हैं।

इनके बाद मोतिहारी से BJP विधायक प्रमोद कुमार, घोषी से JDU विधायक कृष्‍णनंदन वर्मा, समस्‍तीपुर से JDU विधायक महेश्‍वर हजारी, बेनीपट्टी मधुबनी से विधायक विनोद नारायण झा, जमालपुर से JDU के विधायक शैलेष कुमार ,मुजफ्फरपुर से BJP के विधायक सुरेश शर्मा , चेरिया बेरियारपुर से JDU की विधायक कुमारी मंजू वर्मा ने शपथ ली।

BJP और सहयोगी पार्टी के कोटे से 13 और JDU के कोटे से 14 मंत्री बनाए गए हैं। यानी कुल 27 मंत्रियों ने शपथ ली।

बता दें कि बिहार कैबिनेट में अधिकतम 35 मंत्री हो सकते हैं। उम्मीद की जा रही है कि अगले कैबिनेट विस्तार में बाकी बचे विभागों का बंटवारा किया जाएगा।


, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,