प्रदर्शन मार्च निकालेगा जीजेएम


दार्जिलिंग : गोरखा जनमुक्ति मोर्चा अपने समर्थकों की पुलिस गोलीबारी में हुई कथित हत्याओं के विरोध में और अन्य मांगों को लेकर प्रदर्शन मार्च निकालने की योजना बना रही है। पृथक गोरखालैंड की मांग को लेकर संगठन ने पहाड़ी में अनिश्चितकालीन बंद बुलाया हुआ है। बंद के 25वें दिन आज पूरे क्षेत्र में सेना कड़ी नजर रखे हुए है। जीजेएम नेतृत्व ने कल दावा किया था पुलिस की गोलीबारी में चार लोग मारे गये हैं।

हालांकि, पुलिस ने गोलीबारी के आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि उन्होंने एक गोली नहीं चलायी है। जीजेएम का दावा है कि पुलिस गोलीबारी के दौरान पृथक गोरखालैंड का समर्थन करने वाले दो लोग मारे गये जबकि दो अन्य ने अस्पताल में दम तोड़ा।

अलगाववादी समूह ने चारों मृतकों की पहचान ताशी भूटिया, सूरज सुनदास, आशा कुमार और समीर सुब्बा के रूप में की है। राज्य डेवेलॉपमेंट बोर्ड के अध्यक्ष एम. एस. राय ने कथित हत्याओं के विरोध में कल रात इस्तीफा दे दिया। जीजेएम ने बातचीत करने संबंधी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पेशकश भी ठुकरा दी। दार्जिलिंग में कल हिंसा और आगजनी की ताजा घटनाओं के बाद पुलिस हाई अलर्ट पर है। कल क्षेत्र में सेना भी तैनात की गयी है।