वायुसेना के लापता लड़ाकू विमान की तलाश जारी


तेजपुर(गुवाहाटी): भारतीय वायु सेना के लापता लड़ाकू विमान सुखाई-30 एमकेआई की तलाश आज भी जारी रही। असम से कल उड़ान भरने वाला यह विमान रडार से गायब हो गया था, इसका रेडियो संपर्क भी टूट गया था। विमान में दो पालयट सवार थे। रक्षा प्रवक्ता और सेना की चौथी कोर के लेफ्टिनेंट कर्नल संबित घोष ने बताया कि उन इलाकों में तलाश अभियान जारी है जहां पर विमान का सलोनीबाड़ी वायुसेना स्टेशन से संपर्क टूटा था। यहीं से विमान ने कल सुबह साढ़े दस बजे उड़ान भरी थी।

लड़ाकू विमान ने सोनितपुर जिले के तेजपुर स्थित सलोनीबाड़ी वायुसेना स्टेशन से नियमित प्रशिक्षण मिशन के तहत उड़ान भरी थी लेकिन तेजपुर से लगभग 60 किमी दूर उत्तर में विमान से संपर्क टूट गया था। कर्नल घोष ने बताया कि लड़ाकू विमान का पता लगाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए गए हैं। हैलिकॉप्टरों से भी तलाश की जा रही है।

सोनितपुर जिले के उपायुक्त मनोज कुमार डेका ने कल तेजपुर में संवाददाताओं को बताया कि वायुसेना स्टेशन से उड़ान भरने के एक घंटे बाद विमान का रडार और रेडियो संपर्क टूट गया। विमान से अंतिम संपर्क तब हुआ था जब विमान बिस्वनाथ जिले के उपमंडल गोपुर के दुबिया से 60 किमी दूरी पर था।

डेका ने बताया कि अपने स्तर पर लगातार तलाश करने के बाद वायुसेना ने लापता विमान के बारे में प्रशासन को सूचना दी। सूचना मिलते ही उन्होंने तत्काल पड़ोसी जिला प्रशासन को घटना की जानकारी दी। वायुसेना के सूत्रों ने बताया कि विमान एसयू-30 एमकेआई को तेजपुर वायुसेना स्टेशन पर 15 जून, 2009 को तत्कालीन वाइस चीफ एयर मार्शल पीके बारबरा ने अपने कार्यकाल में तैनात किया था।ह्यह्य

भाषा