ममता ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा


मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि बैंक खाता खोलने के लिए आधार कार्ड को अनिवार्य करके केंद्र सरकार ने बिल्कुल ठीक नहीं किया। उन्होंने कहा कि इसका खामियाजा निर्धनतम लोग भुगतेंगे। ममता ने एक ट्वीट में कहा, ”यदि आधार को एकपक्षीय तरीके से अनिवार्य बनाया जाता है तो सर्वाधिक गरीब लोग और हाशिए पर मौजूद लोग सबसे ज्यादा प्रभावित होंगे।”

source

उन्होंने आधार से जुड़े निजता के मुद्दे पर भी सवाल उठाया और कहा कि इसे अनिवार्य बनाने से पहले केंद्र को अवश्य ही देश के नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ”निजता के बारे में आधार से गंभीर चिंताएं हैं। सरकार को 100 ‘ लोगों को इसके दायरे में लाने से पहले इसे बिल्कुल अनिवार्य नहीं बनाना चाहिए।”

source

इससे पहले ममता ने मध्याहन भोजन (मिड डे मिल) योजना के लिए आधार को अनिवार्य बनाने के केंद्र के फैसले की भी आलोचना की थी और इस पर गरीबों का अधिकार छीनने का आरोप लगाया था। उन्होंने आरोप लगाया कि गरीबों की मदद करने की बजाय केंद्र उनके अधिकारों को छीन रहा है। गौरतलब है कि सरकार ने बैंक खाता खोलने और 50,000 रूपये से अधिक के वित्तीय लेन देन के लिए आधार नंबर का जिक्र करना अनिवार्य बना दिया है।