माणिक सरकार ने दायर किया मानहानि का केस


अगरतला, (वार्ता): त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राज्य प्रभारी सुनील देवधर तथा एक स्थानीय अखबार के प्रकाशक के खिलाफ मानहानि का मामला दाखिल किया है तथा उन पर अपने निजी जिंदगी के बारे में बेबुनियाद बयान देने का आरोप लगाया है। मुख्यमंत्री की ओर से वरिष्ठ वकील रणदा प्रसाद रॉय ने पश्चिमी त्रिपुरा के जिला अदालत में याचिका दाखिल की जिसे न्यायालय ने 22 अगस्त को सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया।

अदालत ने इस मामले में अखबार के प्रकाशक तथा श्री देवधर के खिलाफ नोटिस जारी किया है। शिकायत के अनुसार श्री देवधर ने पश्चिमी त्रिपुरा के सेपाहिजाला जिले के बिशलबढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए आरोप लगाया था कि देश के सबसे गरीब मुख्यमंत्री बताने वाले श्री सरकार महंगे कपड़े तथा चश्मों का उपयोग करते हैं।

वह विलासिता की ङ्क्षजदगी जीते हैं तथा 100 किलोमीटर का सफर तय करने के लिए हेलीकॉप्टर का उपयोग करते हैं जबकि राज्य के बाहर वह मीडिया का ध्यान खींचने के लिए ट्रेन से यात्रा करते हैं। श्री देवधर ने आरोप लगाया था कि उन्होंने अपने दफ्तर तथा घर में जिम लगा रखा है तथा उनकी सम्पत्ति उससे कहीं अधिक है जितना वह बताते हैं।