त्रिपुरा एसएसए कर्मचारियों ने शुरू किया आमरण अनशन


अगरतला, (वार्ता): त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में सर्व शिक्षा अभियान (एसएसए) के अंतर्गत काम करने वाले शिक्षकों और स्कूलों के अन्य कर्मचारियों ने अपने पदों को स्थायी करने के लिए कल से आमरण अनशन शुरू कर दिया।
त्रिपुरा एसएसए शिक्षक कल्याण संगठन के महासचिव बसताब देब्बारमा ने बताया कि एसएसए के अंतर्गत काम करने वाले शिक्षकों एवं अन्य कर्मचारियों की यह मांग काफी पुरानी है लेकिन केंद्र से धनराशि आवंटित होने के बाद भी सरकार हमारी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है।

उन्होंने बताया कि राज्य वित्त मंत्री भानु लाल साहा ने विधानसभा में यह स्पष्ट किया था कि केंद्र सरकार स्थायी कर्मचारियों की तरह एसएसए कर्मचारियों को पैसे दे रही है लेकिन विभाग हमें कोई सुविधा उपलब्ध नहीं करा रहा है।  श्री देब्बारमा ने कहा कि सरकार शिक्षकों के एक धड़े को डरा-धमका कर हमारे अभियान को रोकने की कोशिश करना चाहती है। हम एसएसए के अंतर्गत काम करने वाले शिक्षकों एवं अन्य कर्मचारियों को स्थायी करने और गत दस सालों से एसएसए फंड के खर्चों की स्वतंत्र जांच शुरू होने तक आमरण अनशन जारी रखेंगे।