लड़के की मौत के बाद अस्पताल में तोडफ़ोड़


दक्षिणी पश्चिमी कोलकाता के एक अस्पताल में 13 साल के एक लड़के की मौत होने के बाद उसके परिवार के सदस्यों ने तोडफ़ोड़ की और डाक्टरों के साथ हाथापाई की। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उन लोगों ने पुलिस पर पथराव भी किया। उन्होंने बताया कि जोका के ईएसआई मेडिकल कालेज एवं अस्पताल में तोडफ़ोड़ के मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। बिबेक सरकार के परिवार के सदस्यों ने आरोप लगाया कि अस्पताल के अधिकारियों की लापरवाही के कारण लड़के की आज सुबह मौत हो गयी।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि आईसीयू में भारी तोडफ़ोड़ की गयी। अस्पताल के अधीक्षक और डाक्टरों के साथ मारपीट की गयी और पुलिसकर्मियों पर पथराव किया गया। उन्होंने बताया कि इस मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। मामले में जांच की जा रही है। संपर्क किए जाने पर लड़के के एक रिश्तेदार ने दावा किया कि अस्पताल के अधिकारी दो दिनों से उस लड़के को भर्ती नहीं कर रहे थे।

लड़के को तेज बुखार था और वह खून की उलटियां कर रहा था। उन्होंने कहा कि दोनों मौकों पर अस्पताल ने उसे कुछ दवाइयां बताकर वापस भेज दिया। उसकी हालत बिगडऩे पर आज सुबह उसे अस्पताल ले गए। बार-बार अनुरोध किए जाने के बाद उसे एमरजेंसी विभाग में भर्ती किया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि हमें बताए बिना, बिबेक को आईसीयू में ले जाया गया और कुछ मिनट बाद ही उसे मृत घोषित कर दिया। उनकी लापरवाही के कारण लड़के की मौत हो गयी।