विपक्ष लाएगी सुषमा के खिलाफ विशेषाधिकारी हनन प्रस्ताव


संसद के मानसून सत्र में विपक्ष राज्यसभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाएगी। विपक्ष का आरोप है सुषमा ने सदन में झूठ बोला।

विपक्ष की ओर से कहा जा रहा है कि भारत की विदेश नीति के विषय में कथित तौर पर सदन को गलत सूचना देने के कार राज्यसभा में विशेषाधिकार प्रस्ताव लाएंगे। मिली जानकारी के अनुसार अलग-अलग राजनीतिक दलों की ओर से 2 विशेषाधिकार प्रस्ताव लाए जाएंगे।

राज्यसभा में सुषमा स्वराज भारतीय विदेश नीति पर विपक्ष को जमकर जवाब दे रही थी। इसी दौरान विपक्ष ने सुषमा स्वराज पर गलत जानकारी देने का आरोप लगाया है और इस मुद्दे पर कांग्रेस ने सुषमा स्वराज पर विशेषाधिकार हनन का नोटिस लगाया है।

कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य आनंद शर्मा ने सुषमा स्वराज पर सदन में झूठ बोलने का आरोप लगाया है। इसके लिए कांग्रेस सरकार में वाणिज्य मंत्री रहे शर्मा ने सुषमा से मांफी मांगने को कहा है। शर्मा ने सदन में कहा कि बुरहान वानी के एनकाउंटर से पहले पठानकोट अटैक हुआ। इसके अलावा 9 और आतंकी हमले हुए जिन्हें सुषमा भूल गईं।

आपको बता दे कि कि सुषमा स्वराज ने गुरुवार को सदन में कहा था कि बानडुंग एशिया अफ्रीका संबंधों पर हुए सम्मेलन में उन्हें बयान देना का मौका ही नहीं मिला। साथ ही सुषमा स्वराज ने भारत पाकिस्तान के तल्ख रिश्तों पर कहा कि 2016 में कश्मीर में बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद दोनों देशों के रिश्तों में बिगाड आया।

वहीं कांग्रेस का कहना है कि वर्ष 2015 में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को जन्मदिन की मुबारकबाद देने लाहौर गए। उसके कुछ वक्त बाद ही पठानकोट में आतंकी हमला हुआ।