आंध्र प्रदेश : बीजेपी अध्यक्ष कंभमपाटी हरिबाबू ने अपने पद से दिया इस्तीफा


Kambhampati Haribabu

आंध्र प्रदेश से बीजेपी अध्यक्ष कंभमपाटी हरिबाबू ने अपने पद से इस्तीफा देकर पार्टी को झटका दिया है। पार्टी नेता के हरि बाबू ने अपना इस्तीफा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भेजा है। हरिबाबू के इस्तीफे को लेकर पहले से ही अटकलें लगाई जा रही थी। दरअसल यह कहा जा रहा है कि आंध्र प्रदेश में तेलुगु देशम पार्टी से गठबंधन टूटने के बाद बीजेपी अब यहां नई रणनीति के तहत पार्टी को मजबूत करने में जुटी है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के हरि बाबू का इस्तीफा भी इसी रणनीति का हिस्सा है।

गठबंधन टूटने के बाद 2019 के चुनाव में पार्टी को यहां टीडीपी से कड़ी टक्कर मिलेगी। बीजेपी टीडीपी को कड़ी टक्कर देने के लिए आक्रामक रणनीति अपनाने पर विचार कर रही है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक नए अध्यक्ष पद की रेस में एमएलसी सोमू वीरराजू का नाम सबसे आगे है। इनके अलावा पूर्व मंत्री और पार्टी नेता पी मानिकला राव, काना लक्ष्मीनारायण और डी पुरंदारेश्वरी का नाम भी इस पद की रेस में शामिल है। सोमू वीरराजू और पी मानिकला राव कापू समुदाय से आते हैं, लिहाजा इन दोनों में से ही किसी के अध्यक्ष बनने की संभावना सबसे ज्यादा है।

टीडीपी के अलग हो जाने के बाद से ही राज्य इकाई में परिवर्तन की सुगबुगाहट शुरू हो गई थी। खबर है कि विशाखापटनम से सांसद के हरि बाबू को केंद्र में कोई बड़ा पद दिया जा सकता है। टीडीपी के खिलाफ अपनी धार को मजबूत करने के लिए कांग्रेस से अलग होकर बीजेपी में शामिल होने वाले नेताओं को पार्टी यहां ज्यादा तरजीह देना चाहती है। इस रणनीति के तहत दो नेता काना लक्ष्मीनारायण और डी पुरंदारेश्वरी जिन्होंने 2012 में कांग्रेस का साथ छोड़कर बीजेपी का हाथ पकड़ा था उन्हें आगे कर पार्टी यहां विरोधियों को चित करने की कोशिश करेगी।

देश की हर छोटी–बड़ी खबर जानने के लिए पड़े पंजाब केसरी अख़बार।