बीजेपी में शामिल हुए तो नहीं पढ़ने दी नमाज, बोले-हिंदूवादी पार्टी से हो, उन्हीं के साथ जाओ’


Tripura

त्रिपुरा के एक गांव में कुछ मुस्लिम लोगों का आरोप है कि बीजेपी को जॉइन करने के बाद उन्हें मस्जिद में नमाज से रोक दिया गया। उन्हें कहा गया कि वे अब हिंदूवादी पार्टी को समर्थन कर रहे हैं तो उन्हें मस्जिद आने की जरूरत नहीं है, वे हिंदुओं के साथ जाएं। जानकारी के मुताबिक सूबे में शांतीबाजार विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले छोटे से गांव मोईदातिला के 100 परिवारों में करीब 83 परिवार मुस्लिम समुदाय से आते हैं। इनमें 25 मुस्लिम परिवारों ने इस बार चुनाव में बीजेपी को समर्थन देने का फैसला लिया, इन परिवारों का कहना है कि वो बीजेपी कार्यकर्ता है। जिसके चलते इन्हें अपनी अलग मस्जिद बनानी पड़ी।

रिपोर्ट के अनुसार गांव में अब दो मस्जिदें हैं। गांव के निवासी बाबुल हुसैन ने बताया, ‘हम 16 महीने पहले बीजेपी में शामिल हुए। इसपर हमसे कहा गया कि गांव की मस्जिद में हम नमाज नहीं पढ़ सकते। हमसे कहा गया कि जबतक हिंदुवादी पार्टी का समर्थन करेंगे मस्जिद में नमाज नहीं पढ़ सकते।’ मस्जिद में नमाज ना पढ़ने की वजह से इन लोगों ने अब टीन की मस्जिद बनाई है। हुसैन ने बताया कि जब हम बीजेपी में शामिल हुए थे। तभी हमें कह दिया गया था कि हमें यहां नवाज पढ़ने नहीं दी जाएगी। और मस्जिद के मौलाना ने कहा कि हम हिंदू वादी पार्टी का समर्थक हैं और मस्जिद में ऐसे लोगों का घुसना मना है, जो हिंदू समर्थक हैं। हुसैन के आलू के व्यापारी हैं और खुदरा बाजार में आलू बेचकर अपना परिवार चलाते हैं।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।