झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र 11 जुलाई से


रांची, (भाषा):  झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र 11 जुलाई से 17 जुलाई तक होगा जिसकी अधिसूचना आज जारी कर दी गई है। राजभवन से जारी सूचना में आज यहां बताया गया कि संविधान के अनुच्छेद 174 (एक) के तहत राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र 11 जुलाई से आहूत किया है।

अधिसूचना के अनुसार मानसून सत्र 1 सप्ताह का होगा और औपबंधिक कार्यक्रम के अनुसार 16 जुलाई रविवार को विधानसभा की कोई बैठक नहीं होगी। आज जारी कार्यक्रम के अनुसार कुल मिलाकर विधानसभा की कार्यवाही 6 दिनों के लिए चलेगी जिसमें 12 जुलाई को वर्तमान विथीय वर्ष का प्रथम अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा तथा 13 जुलाई को इस पर चर्चा एवं आवश्यक होने पर मतदान कराया जाएगा। विधानसभा के कार्यक्रम में 17 जुलाई को मुख्यमंत्री प्रश्नकाल एवं राज्यकीय कार्य का उल्लेख है।

ज्ञातव्य है कि 17 जुलाई को ही देश के राष्ट्रपति चुनाव के उद्देश्य से विधानसभा में राष्ट्रपति चुनाव के इलेक्टोरल कॉलेज के सदस्य के रूप में विधायक अपना मतदान करेंगे। झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र हंगामेदार होने की आशंका है क्योंकि एक बार फिर इस सत्र में आदिवासी भूमि से जुड़े सीएनटी एसपीटी संशोधन अधिनियम पर चर्चा होने की संभावना है। पिछले वर्ष शीतकालीन सत्र में पारित इस विधेयक को राज्यपाल ने राज्य सरकार को कुछ सुझाव के साथ पुनर्विचार के लिए वापस कर दिया है।