श्रावणी मेले में कांवडिय़ों की लगी लम्बी कतार


देवघर : श्रावणी मेला महोत्सव के चौथे मंगलवार का आगाज भीषण गर्मी और उमस से हुआ। सोमवार की भांति मंगलवार को भी कांवरियों की विशाल भीड़ चारों तरफ दिख रही थी। फौजदारी नाथ के दरबार में जलार्पण के लिए सुबह सवेरे से कांवरियों की लंबी कतार संस्कार मंडप से फूल-रिया टोला तक फैली हुई थी। श्रद्धालुओं के लाइन में कोई भक्त सेंधमारी न करें इसके लिए पुलिस के सैकड़ों जवान की तैनाती की गई थी। लाइन में खड़े कांवरियों को गर्मी और उमस से निजात दिलाने के लिए शीतल जल एवं शरबत पिलाने का काम स्वयंसेवी संस्था नि:शुल्क कर रही थी।

वहीं फूल धारिया टोला के समीप नगर पंचायत बासुकीनाथ के तत्वावधान में श्रद्धालुओं को मुफ्त किया जा रहा था यहां स्वयं नगर पंचायत बासुकीनाथ के कार्यपालक पदाधिकारी पेयजल सेवा प्रदान के कार्य में जुटे हुए थे। शिवगंगा के सभी घाटों पर भक्तों का जमावड़ा पौ फटने के पूर्व लगा रहा यहां बड़ी संख्या में श्रद्धालु महा स्नान की क्रिया में लगे हुए थे। घाटों पर मौजूद पंडे अपने-अपने यजमानों को जल संकल्प कराने में मशगूल थे।

किसी अप्रिय घटना से बचने के लिए एनडीआरएफ की गोताखोर टीम शिवगंगा में चौकस थी मंदिर के प्रवेश व निकास द्वार पर पुलिस एवं सिविल एडमिनिस्ट्रेशन के उच्च पदस्थ अधिकारी पल-पल की गतिविधियों को अपने आंखों में कैद करते जा रहे थे और अपने अधीनस्थों को निर्देशित कर रहे थे घायल कांवरियों की सेवा में स्वास्थ्यकर्मी तत्पर थे।

इसके अलावा एनडीआरएफ और एसएसबी की मेडिकल टीम भक्तों की सेवा का दायित्व संभाले हुई थी। आज मंगलवार के दिन संताल परगना के आयुक्त डा. प्रदीप कुमार ने अपने परिजनों के साथ फौजदारी नाथ के दरबार में पूरे विधि विधान के साथ पूजा अर्चना किया पूजा के दौरान जिला प्रशासन के आला अधिकारी उनके साथ मौजूद थे।