वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने आईएएस अधिकारी शाह फैसल के इस्तीफे को लेकर गुरुवार को बीजेपी केंद्र सरकार पर निशाना साधने के साथ ही कहा कि इस कदम से ‘‘दुनिया उनकी पीड़ा और आक्रोश पर ध्यान देगी।’’ अपने सिलसिलेवार ट्वीट में पूर्व गृह और वित्त मंत्री ने कहा कि प्रथम कश्मीरी आईएएस टॉपर रहे फैसल ने जो कुछ भी कहा है, वह नरेंद्र मोदी सरकार को दोषी ठहराता है।

उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि दुखद है, लेकिन मैं आईएएस अधिकारी (अब इस्तीफा दे चुके) शाह फैसल को सलाम करता हूं। उनके बयान का हर शब्द सच है और बीजेपी सरकार को दोषी ठहराने वाला है। दुनिया उनकी पीड़ा और आक्रोश पर ध्यान देगी।’’ फैसल ने सिविल सेवा अधिकारी पद से इस्तीफा दे दिया है।

उन्होंने बुधवार को अपने फैसले की वजह ‘कश्मीर में लगातार हो रही हत्याओं’ को बताया था और साथ ही कहा था कि कश्मीरी लोगों तक पहुंचने के केंद्र सरकार के प्रयासों में ‘‘ईमानदारी की कमी है’’। उन्होंने इसके साथ ही ‘‘भारतीय मुसलमानों को हाशिये पर डाले जाने पर भी आक्रोश जाहिर किया था।’’

चिदंबरम ने कहा कि कुछ समय पहले ही ‘महान पुलिस अधिकारी’ व पंजाब के पूर्व डीजीपी और मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त जूलियो रिबेरो ने भी यही बात कही थी, लेकिन ‘शासकों की तरफ से उन्हें आश्वासन का एक शब्द तक भी नहीं मिला।’’ उन्होंने कहा, ‘हमारे देश के नागरिकों के ऐसे बयानों से हमारा सिर अफसोस और शर्म से झुक जाना चाहिए।’मोदी सरकार को लेकर रिबेरो ने तब कहा था कि देश को समावेशी विकास की जरूरत है न कि कुछ वर्गों की।