प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को दिल्ली में डॉ. अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर इशारों में तीखा हमला बोला। पीएम मोदी ने इस दौरान कांग्रेस के अलावा काग्रेस उपाध्यक्ष पर उनके मंदिर दर्शन पर पर निशाना साधा।

पीएम मोदी ने राहुल गांधी का नाम ना लेते हुआ अप्रत्यक्ष रुप से उनके शिव भक्त बाले बयान पर तंज कसा। पीएम मोदी ने कहा, ‘1992 में इस सेंटर की नींव रखी गई थी, लेकिन हमारी सरकार ने इसे पूरा किया। जो राजनीतिक दल बाबा साहेब के नाम पर वोट मांगते हैं… खैर क्या कहूं… आज कल उन्हें बाबा साहेब से ज्यादा तो भोले बाबा की याद आने लगी है।’ बता दें कि गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान राहुल गांधी ने खुद को शिव भक्त बताया था।

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि, देश के निर्माण में बाबा साहब का योगदान बहुत जरूरी था। बाबा साहब के योगदान को भुलाने की कोशिश की गई लेकिन वह कोशिश कामयाब नहीं रही। हमारा यह प्रयास है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक बाबा साहब के विचार पहुंचे विशेषकर युवाओं तक।

पीएम ने आगे कहा कि उनकी भूमिका को मिटाने की कोशिशें असफल रहीं, वो लोगों के दिमाग में अपनी प्रभाव ज्यादा बना सके और वो भी उस परिवार से ज्यादा जिसके लिए ऐसी कोशिशें की गईं।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार का यह प्रयास है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक बाबा साहेब के विचार पहुंचे। युवा पीढ़ी उनके बारे में जाने। पीएम ने कहा कि इस सरकार में बाबा साहेब के जीवन से जुड़े महत्वपूर्ण स्थलों को तीर्थ के रूप में विकसित किया जा रहा है। दिल्ली के अलीपुर में जिस घर में बाबा साहेब का निधन हुआ, वहां डॉ आंबेडकर स्मारक का निर्माण किया जा रहा है। नागपुर में दीक्षा भूमि को और विकसित किया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि पिछले साल वर्चुअल दुनिया में एक छठा तीर्थ भी निर्मित हुआ है। यह तीर्थ देश को डिजीटल तरीके से ऊर्जा दे रहा है। पीएम ने भीम एप को सरकार की ओर से बाबा साहेब को श्रद्धांजलि बताया। पीएम ने कहा कि यह एप गरीबों, दलितों, शोषितों के लिए वरदान बनकर आया है। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब का जीवन संघर्ष के साथ-साथ प्रेरणा से भी भरा हुआ है। लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।